इंग्लैंड दौरे से पहले भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली का एक बड़ा बयान सामने आया है. विराट का मानना है कि स्विंग गेंदबाजी सिर्फ भारतीय टीम की ही समस्या नहीं है बल्कि यह तो दुनिया की हर क्रिकेट टीम की समस्या है. विराट का मानना है कि यदि टीम को लय मिल जाए तो आप कुछ भी कर सकते हैं. विराट कोहली आगामी इंग्लैंड दौरे के पर जाने से पहले मीडिया से बात कर रहे थे. उल्लेखनीय ही कि टीम इंडिया इंग्लैंड दौरे पर रवाना हो रही है जहां उसे आयरलैंड से टी20 सीरीज खेलना है जिसके बाद इंग्लैंड से पहले टी20 और उसके बाद वनडे फिर अंत में पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेलना है.

यहां बता दें कि टीम इंडिया पर अक्सर भी घर के शेर होने का आरोप लगता रहता है. कहा जाता है कि टीम भारतीय उपमहाद्वीप में बढ़िया प्रदर्शन करती हैं जहां की पिचें धीमी होती हैं और स्पिनर्स के लिए मुफीद मानी जाती हैं. वहीं इंग्लैंड की पिचें तेज और उछाल वाली पिचें होती हैं जहां की गेंद को स्विंग होने में काफी मदद मिलती है. ऐसे में वहां होने वाले दौरे पर जाने से पहले जब विराट से स्विंग गेंदाबाजी से निपटने की रणनीति के बारे में पूछने की कोशिश की गई तो विराट ने यह जवाब दिया.

विराट का जवाब उस रणनीति का हिस्सा माना जा सकता है जिसके तहत इंग्लैंड को इशारों में ही यह जताने की कोशिश की है कि भारत के तेज गेंदबाज भी इंग्लैंड टीम को स्विंग से परेशान कर सकते हैं.

विराट को एक आक्रमक कप्तान के तौर पर देखा जाता जो मैदान पर साफ दिखाई भी देता है. यहां तक भी कहा जाता है कि अगर विराट को उकसा दिया जाए तो उनका बल्ला ज्यादा ही रन उगलने लगता है. विराट का बयान दर्शाता है कि वे पूरे जोश के साथ इंग्लैंड दौरे का आगाज करना चाहते हैं. विराट ने पिछला विदेशी दौरा दक्षिण अफ्रीका में किया था जहां टीम इंडिया में पहले दो  टेस्ट के बाद शानदार वापसी की थी और तीसरा और अंतिम टेस्ट मैच जीतने के बाद वनडे सीरीज में शानदार कप्तानी प्रदर्शन करते हुए दक्षिण अफ्रीका में पहली बार भारत कोई सीरीज जीत पाया था.

चुनौती होगा इंग्लैंड की परिस्थितियों में टीम इंडिया का ढलना

लेकिन विराट की समस्या टीम इंडिया के इंग्लैंड की परिस्थितियों में ढलने की होगी क्योंकि दक्षिण अफ्रीका का दौरा तो फरवरी में ही खत्म हो गया था जिसके बाद टीम इंडिया भारतीय उपमहाद्वीप के बाहर नहीं गई है. इससे निपटने के लिए विराट ने जरूर जून में हुए अफगानिस्तान के खिलाफ एकमात्र टेस्ट मैच नहीं खेलते हुए काउंटी क्रिकेट खेलने की योजना बनाई थी और वहां की सरे काउंटी से करार भी कर लिया था लेकिन आईपीएल के दौरान लगी गर्दन की चोट की वजह से उन्हें काउंटी में खेलना रद्द करना पड़ा.

लेकिन विराट कोहली के अलावा चेतेश्वर पुजारा जरूर आईपीएल में नहीं खेल पाने के कारण अप्रैल में ही काउंटी क्रिकेट खेलने चले गए थे जहां उनका मिला जुला प्रदर्शन रहा था, लेकिन उन्हें इंग्लैड की परिस्थिति में ढलने में परेशानी नहीं होगी और उनके अच्छा प्रदर्शन करने की उम्मीद भी है. विराट सेना इंग्लैंड में कैसा प्रदर्शन करती है यह तो समय ही बताएगा लेकिन टीम के लिए यह दौरा आसान नहीं होने वाला जिसकी वहां कड़ी परीक्षा होने वाली है.

इसी बीच मीडिया से बात करते हुए एक वक्त ऐसा भी आया जब विराट कोहली को गुस्सा आ गया, हुआ कुछ यूं था की वहां मौजूद पत्रकार बार बार साल 2014 के भारत इंग्लैड दौरे पर सवाल कर रहे थे, जिसे विराट कोहली ने कई बार टालने की कोशिश भी की लेकिन जब सवाल बार बार पूछे जाने पर विराट कोहली इस बात पर नाखुशी भी जताई.