सरिता विशेष

खिलाड़ियों और फिल्मों का रिश्ता बहुत पुराना है. कभी यह रिश्ता दोस्ती का होता है तो कभी प्रेम संबंध तो कभी बात शादी तक पहुंच जाती है. रिश्ता चाहे जो भी हो, खिलाड़ी और फिल्मी सितारे दोनों ही सुर्खियां बटोरते हैं. खिलाड़ियों का ये रिश्ता केवल फिल्मी सितारों तक ही सिमित नहीं रहा बल्कि बड़े पर्दे तक पहुंच गया.

पिछले दशक से कुछ खिलाड़ियों ने बड़ी स्क्रीन पर अपनी अभिनय क्षमता का प्रदर्शन किया है. कपिल देव से सचिन तेंदुलकर तक बहुत सारे भारतीय सुपरस्टार फिल्मों में काम करते दिखे हैं. कई खिलाड़ी ऐसे हैं, जिन्‍होंने क्रिकेट की अपनी लोकप्रियता को फिल्‍मी दुनिया में बड़ी उम्‍मीद के साथ भुनाने की कोशिश की, लेकिन इनके हाथ नाकामी ही आई.

बेशक इन खिलाड़ियों ने अपने प्रतिभा से लाखों क्रिकेट प्रेमियों को अपना प्रशंसक बनाया, लेकिन फिल्‍म पर्दे पर इनका जादू नहीं चल सका. इन खिलाड़ि‍यों में भारतीय टीम के सितारा खिलाड़ी रहे सुनील गावस्‍कर, संदीप पाटिल, अजय जडेजा और विनोद कांबली जैसे खिलाड़ी प्रमुख हैं. आइए नजर डालते हैं क्रिकेट से फिल्‍मी दुनिया में प्रवेश करने वाले इन खिलाड़ि‍यों के सफर पर.

सलीम दुर्रानी

सलीम दुर्रानी दर्शकों की डिमांड पर छक्‍के लगाने के लिए जाने जाते थे. वे ऐसे पहले भारतीय क्रिकेटर थे जिन्होंने क्रिकेट से बौलीवुड की ओर रुख किया. साल 1973 में रिलीज हुई फिल्म ‘चरित्र’ में वह परवीन बौबी के साथ लीड रोल में नजर आए थे.

सचिन तेंदुलकर

मास्टर बलास्टर सचिन तेंदुलकर ने अपनी ही जिंदगी पर बन रही फीचर फिल्म ‘सचिन : अ बीलियन ड्रीम्स’ से फिल्म इंडस्ट्री में अपना डेब्यू किया. फिल्म में सचिन के क्रिकेट करियर और जिंदगी से जुड़े अनछुए पहलूओं के बारे में दिखाया गया.

संदीप पाटिल

क्रिकेट जगत में संदीप पाटिल आक्रामक बल्‍लेबाजी के लिए मशहूर थे. वर्ल्‍ड कप 1983 में भारतीय टीम के चैंपियन बनने के बाद पाटिल ने फिल्म ‘कभी अजनबी थे’ में काम किया था. इस फिल्‍म में उनके साथ पूनम और देबश्री राय भी थीं. कम ही लोगों को इस बात की जानकारी होगी कि इस फिल्‍म में विलेन की भूमिका में पूर्व विकेटकीपर और वर्ल्‍डकप 1983 की विजेता भारतीय टीम के सदस्‍य सैयद किरमानी भी थे.

सुनील गावस्कर

टीम इंडिया के पूर्व कप्‍तान और महान ओपनर सुनील गावस्कर ने अपने क्रिकेट करियर के दौरान मराठी फिल्म ‘सावली प्रेमाची’ में बतौर मुख्य एक्टर दिखे थे. यह फिल्‍म कोई खास नहीं चली. ‘सनी इसके अलावा साल 1988 में रिलीज हुई कौमेडी हिन्दी फिल्म ‘मालामाल’ में बतौर गेस्ट एपियरेंस में नजर आए थे.

सरिता विशेष

युवराज सिंह

युवराज सिंह के पिता योगराज सिंह की अभिनय क्षमता से तो हर कोई अवगत है, पर यह बात कम ही लोग जानते हैं कि उनका बेटा भी कैमरे के पीछे काम कर चुका है. युवराज ने कुछ पंजाबी फिल्मों में अपने पिता के साथ बच्चे के रूप में अभिनय किया है. युवी ने पंजाबी फिल्म ‘मेहंदी शगना दी’ में अभिनय किया था.

कपिल देव

1983 का वर्ल्ड कप जीताने वाले दिग्गज कप्तान कपिल देव इकबाल, मुझसे शादी करोगी और स्टम्पड मूवी में नजर आ चुके हैं.

एम एस धोनी

महेंद्र सिंह धोनी यकीनन सबसे महान भारतीय कप्तान हैं. बहुत से लोग यह नहीं जानते कि धोनी बौलीवुड फिल्म ‘हुक या क्रुक’ के हिस्सा थे. डेविड धवन द्वारा निर्देशित इस फिल्म के मुख्य अभिनेता जौन अब्राहान थे. साथ ही इस फिल्म में के के मेनन और जेनेलिया डिसूजा जैसे प्रसिद्ध कलाकार भी थे. फिल्म एक क्रिकेटर के जीवन पर आधारित थी. दुर्भाग्य से, अज्ञात कारणों के कारण यह कभी रिलीज न हो सकी.

दिनेश मोंगिया

भारतीय खिलाड़ी दिनेश मोंगिया ने ‘कबाब में हड्डी’ नामक फिल्म में काम किया था. इस फिल्म में उन्होंने अमिताभ बच्चन की पैरोडी की थी. हालांकि, फिल्म का बौक्स औफिस पर प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा और आलोचकों द्वारा काफी विरोध भी हुआ.

हरभजन सिंह

औफ स्पिनर हरभजन सिंह ने पंजाबी फिल्म ‘भा जी इन प्रौब्लम’ में काम कर चुके हैं, जिसका निर्माण अक्षय कुमार ने किया था. उन्होंने प्रसिद्ध हिंदी फिल्म ‘मुझसे शादी करोगी’ में भी छोटी भूमिका निभाई थी, जहां उन्होंने टीम के साथी खिलाड़ियों इरफान पठान, मोहम्मद कैफ, जवागल श्रीनाथ और आशीष नेहरा के साथ काम किया था.

विनोद कांबली

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के दोस्त विनोद कांबली साल 2002 में रिलीज हुई फिल्म ‘अनर्थ’ में संजय दत्त, आशुतोष राणा और सुनील शेट्टी के साथ नजर आ चुके हैं.

अजय जडेजा

टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर अजय जडेजा भी फिल्‍मों में किस्‍मत आजमा चुके हैं. साल 2003 में रिलीज बालीवुड फिल्म ‘खेल’ में अजय जडेजा उन्‍होंने किया. इस फिल्म में अजय के अलावा सन्नी देओल, सुनील सेट्टी और सेलिना जेटली भी थीं.

सलिल अंकोला

भारतीय टीम के तेज गेंदबाज सलिल अंकोला क्रिकेट से संन्‍यास लेने के बाद कई बौलीवुड फिल्मों में काम किया. कुरुक्षेत्र और ‘चुरा लिया है तुमने’ जैसी फिल्‍में इसमें खास रहीं.

सदगोपन रमेश

भारतीय टीम के इस पूर्व क्रिकेटर ने भी कुछ तमिल फिल्मों में अभिनय किया, जिनमें ‘संतोष सुब्रमण्यम’ और फिल्म ‘पोटा पोटी’ प्रमुख हैं.