बारामुला हमले में शामिल एक आतंकी ने अपने साथियों से आतंक का रास्ता छोड़ने की अपील की है. वायरल हो रहे इस वीडियो में वो आतंकी अपने साथियों को सम्बोधित करता दिख रहा है और उनके नाम लेकर उनसे आतंक की राह छोड़ने को कह रहा है.

“मेरा नाम एजाज़ अहमद है, मै अपने दोस्तों, सुहेब, मोहसिन, नासिर जो अमन का रास्ता छोड़ अपने परिवार को भुला कर आतंक फैला रहे हैं से आतंकवाद छोड़ घर लौट आने की गुजारिश करता हूँ. मैं नासिर से विनती करता हूँ की वो घर लौट आये, उसकी माँ बहुत बीमार हैं.”

इस दो मिनट के वीडियो को हिरासतमें रहने के दौरान बनाया गया है. आगे जोड़ते हुए अहमद ने कहा की पाकिस्तान नौजवानों को गलत रास्ते पर ले जा रहा है.

“हमारे पास आतंकी संगठन लश्कर के द्वारा उत्तरी कश्मीर में हिंसा फैलाये जाने के पुख्ता सबूत हैं,” आईजीपी (कश्मीर रेंज) स्वयं प्रकाश ने बातचीत के दौरान पत्रकारों को बताया.

पुलिस के सूत्रों का कहना है की हिरासत में लिए गए चार में से दो आतंकी बारामुला निवासी हसीब खान, इरफ़ान, मोहम्मद शेख की हत्याओं में शामिल थे. वीडियो में हिरासत में लिए गए आतंकी अहमद ने कहा की फ़ौज ने उन्हें ज़िंदा छोड़ के एक नयी ज़िन्दगी दी है.

“हमने फ़ौज पर हमला किया, पर जवाब में उन्होंने गोलियां नहीं चलायीं, मै वहाँ से भाग के घने जंगलों में छिप गया, पर फ़ौज ने मुझे ढूंढ निकाला और ज़िंदा हिरासत में ले कर नयी ज़िन्दगी दी.”

इसके आगे जोड़ते हुए उन्होंने कहा की,” हमें पाकिस्तान में बैठे हमारे नेताओं द्वारा हिंदुस्तानी फ़ौज के बारे में गलत कहा जा रहा है. आपको यहां आकर हिंदुस्तानी फ़ौज से मिलना चाहिए. हमारे साथ धोखा हो रहा है, पाकिस्तान के नेता हमारी ज़िन्दगी के साथ खेल रहे हैं.”

VIDEO : दीपिका पादुकोण तमाशा लुक

ऐसे ही वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक कर SUBSCRIBE करें गृहशोभा का YouTube चैनल.

COMMENT