मेहनत हर व्यक्ति अपने तरीके से करता है लेकिन हर व्यक्ति सफल नहीं हो पाता. ठीक उसी तरह मेहनत करने वाला हर व्यक्ति अमीर नहीं बन पाता. इस के लिए उस की आदतें जिम्मेदार होती हैं, जिस में काम को टालना प्रमुख है.

थौमस सी कार्ले नाम के लेखक ने 5 साल में 177 करोड़पतियों पर अध्ययन के आधार पर निषकर्ष निकाला कि जो व्यक्ति अपनी काबीलियत के दम पर अमीर बनता है वह व्यक्ति कार्यों को टालने में विश्वास नहीं रखता, न ही वह जल्दी किसी काम से इरीटेट होता है बल्कि हर कार्य को चैलेंज की तरह ऐक्सैप्ट कर के उस में सफल होने की कोशिश करता है. उस की पौजिटिव पर्सनैलिटी औरों में भी उत्साह का संचार करती है.

अब आप सोच रहे होंगे कि वो कभी भी किसी कार्य को नहीं टालते होंगे तो ऐसा नहीं है. लेकिन अगर उन्होंने आज किसी कारण से कार्य को टाल दिया है तो अगले दिन वह उस कार्य के लिए जीजान लगा देते हैं, लेकिन जिन लोगों के लिए टालने का मतलब हमेशा के लिए उस कार्य को टालना होता है वह व्यक्ति जीवन में कभी मुकाम हासिल नहीं कर पाते और इस से कंपनी, बिजनैस और संबंधों पर भी प्रभाव पड़ता है.

जबकि अपने दम पर सफल होने वाला व्यक्ति अपना एक शैड्यूल बना कर चलता है फिर उसी के अनुसार अपने कार्य को निबटाता चलता है. वह अपने आसपास व अपने ग्रुप में भी ऐसे ही लोग पसंद करता है जिन का काम का स्टाइल उस से मिलताजुलता हो और वे काम की इंपौर्टेंस जानते हो. वह दूसरों से भी नई चीजें सीखने में पीछे नहीं रहता.दूसरी बात हर व्यक्ति की कमाई एकजैसी नहीं होती लेकिन अगर आप अमीर बनना चाहते हैं तो अपने लीविंग स्टाइल में चेंजिस लाएं जैसे अगर कमाई ज्यादा नहीं है तो खर्च कम कीजिए और अगर खर्च ज्यादा है तो उस के हिसाब से कमाई कीजिए, इस से आप खुद ही सुधार देखेंगे.कहने का तात्पर्य यह है कि अमीर बनने के लिए टालमटोल छोड़ने के साथसाथ कंप्लीट नींद लेना व फास्टफूड व स्मोकिंग की हैबिट से दूर रहना बहुत जरूरी है.