मंदिर की सीढि़यों पर बैठे हुए, टे्न में घूमते हुए, रैड लाइट पर भीख मांगते हुए तो आप ने भिखारियों को देखा ही होगा, जिन्हें देख कर आप सोचते होंगे कि इन की मुश्किल से महीने की 1000 रुपए कमाई होती होगी और आप उन पर तरस खा कर उन की झोली मे कुछ पैसा गिरा देते होंगे. लेकिन आज समय बिलकुल बदल गया है. आज जमाना आ गया है अमीर भिखारियों का, जिस ने हमारे दिमाग में बनी भिखारियों की इमेज को धूमिल कर दिया है.

48.98 लाख प्रतिमाह कमाने वाला भिखारी

अगर भिखारी 4-5 हजार रुपए महीने का कमाते तो फिर भी सोचा जाता कि वे ज्यादा कमाई करने के चक्कर में पौश कालोनियों के आसपास या फिर 24×7 काम करते हैं. लेकिन एक भिखारी के लिए प्रतिमाह 48.98 लाख कमाना बहुत बड़ी बात है. लेकिन ये सच है. अभी हाल ही में दुबई नगरपालिका के निरीक्षकों ने अमीरात पुलिस के साथ मिल कर भिखारियों पर शिकंजा कसने के उद्देश्य से अभियान चलाया था, जिस के चलते 50-60 भिखारियों को पकड़ा गया, जिस में एक भिखारी 48.98 लाख प्रतिमाह कमाने वाला भी था. ये भिखारी वीजा के साथ दुबई में ऐंटर हुआ. इस देश में आने का मकसद यह था कि बहुत कम समय में अमीर बन सके.

वो इस के लिए जुमे की रोज मस्जिद के बाहर लाइन लगा कर खड़े हो जाते थे और मस्जिद में जाने वाले लोग उन की पैसों से भरपूर पेट पूजा करवाते थे. जिस से उन की मौजें ही मौजें हो रही थीं. देने वालों को क्या पता था कि वे उन के दिए पैसों से अमीर बन रहे हैं.

ऐसा सिर्फ दुबई में ही नहीं बल्कि भारत में भी है जहां आप को ढेरों अमीर भिखारी देखने को मिल जाएंगे, जिन के पास मकान, बंगले, गाड़ी सबकुछ है लेकिन बिजनैस ऐसा, जिस में दूसरों के सामने खुद को ऐसे दिखाना कि वे आप को भीख देने पर मजबूर हो जाएं.

अभी तक आप ने सब से अमीर व्यक्ति या फिर सब से अच्छे लीडर के बारे में सुना होगा लेकिन अब आप इंडिया के टौप 5 अमीर भिखारियों के बारे में भी जान लें जिन का विवरण इस प्रकार हैः

1. 49 साल का भारत जैन, जो भीख मांगने का काम करता है उस के पास 2 मिलियन के करीब संपत्ति है. उस के मुंबई में दो फ्लैट्स हैं, हर फ्लैट की कीमत 70 लाख के करीब है. उस की एक जूस की दुकान भी है, जिस से उसे हर महीने 10 हजार रुपए किराया भी मिलता है.

2. कृष्णाकुमार, जो मुंबई में अपने परिवार के साथ रहता है, उस के भी मुंबई में कई मकान हैं, जिस की कीमत लाखों में है. जिस से आप सहज ही अंदाजा लगा सकते हैं कि उस के पास कितनी संपत्ति होगी.

3. पटना की करवटिया देवी जो अमीर भिखारियों की लिस्ट में तीसरे नंबर पर शामिल है, उस के पास भी काफी संपत्ति है. उस ने 9 साल पहले पटना रेलवे स्टेशन और वहां से गुजरने वाली ट्रेनों में भीख मांगने का काम शुरू किया था. इस से उस ने इतना पैसा कमा लिया कि उस ने अपनी बेटी की शादी ग्रैंड लैवल पर की. वह एलआईसी के लिए उस का सालाना प्रीमियम 36 हजार रुपए भरती है.

4. समबाजी काले जो मुंबई के सुबरबन एरिया में रहता है और भीख मांगने का काम करता है. उस की एक दिन की इनकम 1000 रुपए है. वो अपार्टमैंट में रहता है और उस के शोलापुर डिस्ट्रिक्अ में खद के 2 मकान हैं. उसे इस जौब से बहुत प्यार है क्योंकि उसे लगता है कि इस में उसे कुछ लगाने की जरूरत नहीं पड़ती बल्कि मिलता ही मिलता है.

5. लक्ष्मी डोस जो कोलकाता मे रहती है और अमीर भिखारियों की सूची में 5वें स्थान पर है. उस ने 1964 में भिखारी का काम शुरू किया जब वह 16 साल की थी. वो लोगों के सामने लाचार बन कर भीख मांगती थी. आज उस का बैंक में अकाउंट होने के साथसाथ खुद का के्रडिट कार्ड भी है.

पढ़ालिखा भिखारी

अभी कुछ समय पहले एक ऐसा मामला भी सामने आया, जिस में दिल्ली यूनिवर्सिटी से ग्रैजुएट छात्र जो बीपीओ में जौब करता था और वहां से 15,000 रुपए महीना भी कमा लेता था. उस के दिमाग में एक आइडिया आया कि अगर वह 2 घंटे के लिए भिखारी बन जाए तो ज्यादा कमाई कर सकता है. उस ने अपने इस आइडिया को हकीकत में बदला और इस में वह सफल भी हो गया.

भीख मांगने के स्टाइल

लाइफ फंडों के बल पर चलती है ये तो सब जानते हैं लेकिन भीख मांगने के लिए अलगअलग स्टाइल्स अपनाए जाएंगे ये किसी को नहीं पता था. आइए जानते हैं उन्हीं स्टाइल्स के बारे में. कुछ औरतें भीख मांगने के लिए अपने हाथ में छोटा सा बच्चा और दूध की बोतल ले कर घूमती हैं और लोगों से यह कह कर भीख मांगती हैं कि उन का बच्चा कल रात से भूखा है इसलिए दूध पिलाने के लिए पैसा दे दो. मैट्रो स्टेशन पर आप को आजकल ऐसे भिखारी भी देखने को मिल जाएंगे जो बच्चों की बीमारी का बहाना बना कर ढेरों पैसे लूट लेते हैं. वो इस तरह से बच्चे को जमीन पर लिटाते हैं जैसे वो मरने की हालत में हों. ऐसे में कोई भी तरस खा कर उन्हें पैसे दे देते हैं.

  1. रैड लाइटों पर आप को ऐसे भिखारी भी देखने को मिलेंगे जो हाल में फावड़ा लिए हुए होते हैं और ये कह कर पैसा मांगते हैं कि मेरा ठेकेदार 6 दिनों से छुट्टी पर है जिस कारण परिवार के भूखे मरने की नौबत आ गई है.
  2. कुछ झूठे फ्रैक्चर के नाम पर भीख मांगते हैं.
  3. कुछ लोग ये कह कर भीख मांगते हैं कि हमारे गांव में बाढ़ आ गई है जिस कारण सब कुछ उजड़ गया है इसलिए हमारी पैसों से मदद करें.
  4. कुछ बूढ़ी औरतें झूठे दवाई के परचे दिखा कर भी पैसा बटोरने की कोशिश करती हैं.
  5. यह व्यक्ति बोल नहीं सकता और आप की जो मदद बने कर दें. जैसे फंडे अपना कर मोटी रकम कमा लेते हैं.
  6. कुछ बेटी की शादी के नाम पर ढेरों बटोर लेते हैं.
  7. कुद मिला कर उन्हें ये बिजनैस खूब भा रहा है. क्योंकि इस में रटेरटाए डाइलौग्स लाखों की कमाई जो करवा देते हैं और मेहनत भी नहीं करनी पड़ती.

देने वालों का भी दोष

इस काम को प्रोत्साहित करने का श्रेय आम लोगों को जाता है क्योंकि जब कोई भीख मांगता है और हम उसे न दें तो वह इस धंधे को छोड़ने पर मजबूर हो जाएगा. लेकिन जब हम बैठेबैठाए उन का पेट भर रहे हैं तो वे कभी भी काम नहीं करेंगे.

इसलिए भीख मांगने वालों को कभी पैसा न दें. अगर आप को बहुत ही जरूरतमंद व्यक्ति दिखाई देता है तो उस की रोटी व कपड़े से मदद करें.