अकसर देखा जाता है कि ब्रेकअप के बाद कपल एकदूसरे को भूलने के लिए क्या क्या नहीं करते, कभी एकदूसरे को सोशल साइट्स पर ब्लौक करते हैं तो कभी अनब्लौक. वैसी जगहों पर जाना छोड़ देते हैं जहां उन के पार्टनर आते हैं. कुछ तो कौमन फ्रैंड्स से भी दूरी बना लेते हैं ताकि उन्हें ब्रेकअप का कारण न बताना पड़े. कई बार ब्रेकअप से बाहर निकलने के लिए छोटीछोटी चीजें करने लगते हैं, जबरन सोशल साइट्स पर खुश दिखाने की कोशिश करने लगते हैं.

पर क्या कभी आप ने ब्रेकअप के बाद अपने एक्स से दोस्ती करने के बारे में सोचा है? यकीनन नहीं सोचा होगा लेकिन ब्रेकअप के बाद दोस्ती रखना आप के लिए फायदेमंद होता है. यह आप को मानसिक रूप से सबल बनाता है जिस से आप खुश रहते हैं और डिप्रेशन के गम से बाहर निकलते हैं.

क्यों पसंद नहीं करते दोस्ती करना

आमतौर पर लोग ब्रेकअप के बाद दोस्ती रखना इसलिए पसंद नहीं करते क्योंकि इस से उन्हें अपने साथी और उस की यादों से निकलने में काफी तकलीफ होती है. संपर्क में रहने से वे उन दिनों की यादों से नहीं निकल पाएंगे. पर ब्रेकअप के बाद आपस में दोस्ती का रिश्ता रख कर आप एकदूसरे की मदद कर सकते हैं. इस में कोई बुराई नहीं है बल्कि इस से यह स्पष्ट होता है कि आप के दिल में एकदूसरे के प्रति कोई खराब भावनाएं नहीं हैं.

इसी का ताजा उदाहरण हैं बौलीवुड अदाकारा दीपिका पादुकोण. दीपिका ने अपने एक्स बौयफ्रैंड रणवीर कपूर से ब्रेकअप के बाद भी बहुत ही प्यारा और दोस्ताना रिश्ता रखा है. दीपिका की कई बातें हैं जो ब्रेकअप के बाद मूव औन करना और अपने एक्स के साथ दोस्ताना रिश्ता रखना सिखाती है. पर्सनल बातों को किनारे रखते हुए प्रोफैशनली दीपिका ने रणवीर कपूर के साथ फिल्म साइन की और दर्शकों ने इस फिल्म को काफी पसंद किया. इस बात से पता चलता है कि हमें प्यार और काम में कैसे बैलेंस बना कर रखना चाहिए. अगर आप और आप का एक्स एक ही जगह पढ़ते या काम करते हैं तो अपने काम को कभी भी रिश्ते की खातिर इग्नोर न करें और न ही ब्रेकअप को अपने ऊपर हावी होने दें.

बौलीवुड में ऐसे कई कपल्स हैं, जिन में ब्रेकअप के बाद भी दोस्ती का रिश्ता हैः

डीनो मोरिया-बिपाशा बसु: मौडलिंग के दिनों में ये दोनों साथ रहते थे. 2002 में ‘राज’ फिल्म में एकसाथ परदे पर आए और काफी समय तक चर्चा में रहे. लेकिन इन का ब्रेकअप हो गया और बिपाशा जौन के पास चली गई. कई सालों तक बिपाशा और जौन का रिलेशनशिप रहा, लेकिन फिर इन का रिश्ता टूट गया. इस के बाद बिपाशा ने करण से शादी कर ली और शादी की तसवीरों में बिपाशा और डीनो की दोस्ती को साफ देखा जा सकता है.

णबीर-दीपिका: रणबीर और दीपिका की दोस्ती को बौलीवुड सलाम करता है. ब्रेकअप के बाद दोस्ती के रिश्ते को मैंटेन करना सीखना है तो कोई इन से सीखे.

अनुष्का शर्मा-रणवीर सिंहः रणवीर सिंह और अनुष्का शर्मा ने अपनी पहली फिल्म ‘‘बैंड बाजा बारात’’ के बाद से एकदूसरे को डेट करना शुरू कर दिया था. लेकिन इन का यह रिलेशन बहुत समय तक चल नहीं पाया और ब्रेकअप हो गया. ब्रेकअप के बाद ये कुछ समय के लिए एकदूसरे से दूर थे लेकिन फिर दोनों ने दोस्ती मैंटेन कर ली.

शिल्पा-अक्षय: 90 के दशक में इन की जोड़ी हिट जोड़ी थी. लेकिन कुछ समय बाद ये अलग हो गए और अक्षय ने ट्विंकल से शादी कर ली और शिल्पा ने राज कुंदरा में प्यार ढूंढ़ लिया. लेकिन आज भी दोनों मिलते हैं तो अच्छे दोस्त की तरह मिलते हैं.

ऋषि कपूर-डिंपल कपाड़िया: रणबीर ने दीपिका से ब्रेकअप के बाद दोस्ती काफी अच्छे से बरकरार रखी. आखिरकार इतने अच्छे से मैनेज करना उन्होंने अपने पापा से सीखा है. ऋषि कपूर ने भी एक जमाने में डिंपल कपाड़िया के साथ दोस्ती मैंटेन की थी.

गौरव चोपड़ा-नारायणी शास्त्रीः गौरव चोपड़ा और नारायणी शास्त्री काफी समय तक साथ थे. लेकिन इन के ब्रेकअप के बाद गौरव ने मोनी राय से रिश्ता जोड़ लिया. इस के बाद भी गौरव और नारायणी के बीच दूरियां नहीं बढ़ीं. आज भी वे अच्छे दोस्त हैं.

ब्रेकअप के बाद हमें समझ नहीं आता कि हमें क्या करना चाहिए और क्या नहीं. गुस्से में हम ऐसी कई चीजें कर देते हैं जिन का एहसास हमें काफी समय बाद होता है.

क्या न करें

सोशल प्लेटफौर्म को छोड़ें नहीं

सरिता विशेष

अक्सर ऐसा होता है कि ब्रेकअप के बाद हम सोशल प्लेटफौर्म को भी छोड़ देते हैं, अकाउंट डिएक्टीवेट कर देते हैं या फिर पार्टनर को ब्लौक कर देते हैं. ऐसा न करें बल्कि आप ऐसा कर के लोगों को और बोलने का मौका देती हैं. इसलिए सोशल साइट्स पर बने रहें. लेकिन एक बात का ध्यान रखें. आप वहां अपने इमोशन को ज्यादा पोस्ट न करें.

इंसल्ट करने की गलती न करें

ब्रेकअप की वजह से हम इतने तनाव में आ जाते हैं कि हम क्या करते हैं हमें खुद को भी नहीं पता होता इसलिए इंसल्ट करने की गलती न करें अगर आप ऐसा करती हैं तो नुकसान आप का ही है.

इमोशनल ब्लैकमेल न करें

लड़कियां ब्रेकअप के बाद काफी इमोशनल ब्लैकमेल करती हैं, बारबार फोन कर के रोती हैं. इस तरह की हरकत न करें. आप के ऐसा करने से पार्टनर को लगने लगता है कि अगर वह आप के टच में रहेगा तो उसे हमेशा आप का यह ड्रामा झेलना पड़ेगा.

ब्रेकअप के बाद न दिखाएं पौजेसिवनैस

कुछ लड़कियां जब तक रिलेशन में होती हैं तब तक वे रिलेशन को वैल्यू नहीं देती लेकिन जैसे ही ब्रेकअप होता है वे पौजेसिव बनने लगती हैं, अजीबअजीब हरकतें करने लगती हैं और दोस्ती बरकरार रखने का मौका खो देती हैं.

शहर व जौब छोड़ने की गलती न करें

ब्रेकअप के बाद एकदम अकेलाअकेला लगता है, किसी काम में मन नहीं लगता. कुछ तो जौब छोड़ देते हैं, शहर बदल लेते हैं ताकि सबकुछ भूल जाएं. लेकिन ऐसा कुछ करना सौल्यूशन नहीं है, ऐसा कर के आप किसी दूसरे का नहीं बल्कि खुद का भविष्य खराब करते हैं.

अवौइड करने की भूल न करें

ब्रेकअप के बाद आप पार्टनर को एकदम अवौइड न करें. ऐसा न करें कि जहां आप का पार्टनर जा रहा हो, आप वहां सिर्फ इसलिए जाने से मना कर दें कि वहां आप का एक्स बौयफ्रैंड भी आ रहा है. अवौइड कर के आप लोगों को मौका देती हैं कि लोग आप के बारे में बातें करें.

क्या करें

मिले तो करें नौर्मल बिहेव

ब्रेकअप के बाद जब पार्टनर से मिलें तो नौर्मल बिहेव करें, ऐसा न हो कि आप उसे हर बात पर पुरानी बातें याद दिलाते रहें, कहते रहें कि पहले सबकुछ कितना अच्छा था, हम कितनी मस्ती करते थे और आज देखो हमारे पास बात करने के लिए कुछ भी नहीं है. ऐसा भी न करें कि ब्रेकअप के बाद मिलें तो ओवर एक्साइटेड बिहेव करें, ये दिखाने के लिए कि आप बहुत खुश हैं, पहले से ज्यादा हैप्पी हैं. बल्कि ऐसे रहें जैसे आप अपने बाकी फ्रैंड्स के साथ रहती हैं.

मन से निकालें बौयफ्रैंड वाली फीलिंग

अपने बीच दोस्ती बनाए रखने के लिए सब से जरूरी है कि आप अपने मन से बौयफ्रैंड वाली फीलिंग निकाल दें क्योंकि आप जब तक इस चीज से बाहर नहीं निकलेंगी तब तक आप अपने बीच दोस्ती बरकरार नहीं रख पाएंगी.

चिल यार के फंडे को अपनाएं

ब्रेकअप के बाद खुद को स्ट्रौंग रखने के लिए चिल यार के फंडे को अपनाएं. आप सोच रही होंगी कि चिल यार का फंडा क्या है? चिल यार का फंडा है जैसे अपना मेकओवर करवाएं, फ्रैंड्स के साथ पार्टीज करें, वे सारी चीजें करें जो आप रिलेशनशिप की वजह से नहीं कर पाती थीं.

अपनी तरफ से दें फ्रैंडशिप प्रपोजल

भले ही सामने वाला आप से फ्रैंडशिप रखने में रुचि न दिखाए लेकिन आप फिर भी खुद से फ्रैंडशिप का प्रपोजल दें. आप के इस पौजेटिव व्यवहार को देख कर सामने वाला भी आप से दोस्ती बरकरार रखेगा.

एक सीमा तय करें

ब्रेकअप के बाद की दोस्ती में एक दायरा तय करें क्योंकि पहले की बात कुछ और थी. अब चीजें बदल चुकी हैं. अब आप दोनों दोस्त हैं. ऐसा न हो कि आप के बीच का रिश्ता तो खत्म हो गया है लेकिन इस के बाद भी आप के बीच कभी शारीरिक संबंध बन जाए. इसलिए एक दायरा तय करें. अगर आप ने तय किया है कि दोस्ती का रिश्ता बरकरार रखेंगे तो इस रिश्ते की गरिमा को बना कर रखें.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं
loading...