बच्चों की प्रिय पत्रिका चंपक अब स्कूलों के साथ आवासीय अपार्टमेंट तक पहुंच रही है. जहां बच्चे चंपक पेंटिंग प्रतियोगिता में हिस्सा ले अपने हुनर का कमाल दिखा रहे हैं.

14 अप्रैल को चंपक इस उदेदश्य से लखनऊ के गोमतीनगर इलाके में बने रोहिताश प्लेनेट अपार्टमेंट पहुंची और कक्षा 8 तक के बच्चों के बीच 3 ग्रुप में पेटिंग प्रतियोगिता का आयोजन किया, जिसे रंग भरो प्रतियोगिता का नाम दिया गया. पहला ग्रुप कक्षा 2 तक के बच्चों का था. इस प्रतियोगिता में हिस्सा लेने वाले बच्चों को संविधान निर्माता बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर का स्केच दिया गया और बच्चों ने इसमें रंग भरा.

उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा विभाग की ज्वाइंट डायरेक्टर ललिता प्रदीप ने बच्चों को बाबा साहब के बारे में बताया. जिसे सुनकर बच्चों ने संविधान निर्माता को और गंभीरता से जाना और समझा. चंपक क्रियेटिव चाइल्ड कांटेस्ट के साथ आयोजित इस प्रतियोगिता में ललिता प्रदीप ने बच्चों को उपहार और प्रमाणपत्र देकर सम्मानित किया.

इस मौके पर रेजीडेंसियल वेलफेयर सोसाइटी के अध्यक्ष एमडी शाही ने विजेता बच्चों देवयानी, काशवी टंडन और आराध्या सहित सभी बच्चों को पुरस्कार दिया.

कक्षा 3 से 5 के बच्चों ने माई फेविरट कार्टून बनाया. इसमें शौर्य सिंह, भाव्या टंडन सहित कई बच्चों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया. कक्षा 6 से 8 के बीच पढने वाले बच्चों ने क्लीन इंडिया ग्रीन इंडियाके आधार को लेकर चित्र बनाया और रंग भरा.

सभी बच्चों को चंपक पत्रिका पढने के लिये दी गई. वहां उपस्थित सभी पैरेंटस ने इसकी सराहना की और कहा कि ऐसे आयोजन दूसरे आवासीय अपार्टमेंट में किये जाये. साधना सिंह, रीता सिंह और रिचा सिंह ने आयोजन में सहयोग दिया.