फिल्म ‘ओम शांति ओम’ का गीत ‘छन से जो टूटे कोई सपना, जग सूनासूना लागे, जग सूनासूना लागे, कोई रहे न जब अपना…’ को अकसर युवा तब गुनगुनाते नजर आते हैं जब उन का बे्रकअप हो जाता है. उन्हें लगता है जैसे उन की जिंदगी अब थम सी गई है और वे अपनी बीती यादों में ही खुद को समेट कर दुखी रहने लगते हैं, सब से कटने लगते हैं, किसी से बात नहीं करते. वे सोचते हैं कि अब उन की जिंदगी में कभी उजाला नहीं होगा. लेकिन उन की यह सोच बिलकुल गलत है.आज तो वैसे भी कई बौयफ्रैंड्स व गर्लफ्रैंड्स रखने का ट्रैंड है तो ऐसे में सिर्फ एक के गम में अपनी पूरी जिंदगी खराब करना या फिर उसी के गम में दुखी रहना अक्लमंदी नहीं बल्कि बोल्डली इस गम को फेस करें व इस से उबरें. इस से आप का कौन्फिडैंस भी बढ़ेगा.

कैसे उबरें ब्रेकअप के गम से

नया पार्टनर ढूंढ़ें

पहले पार्टनर को भुलाना आसान नहीं होता, लेकिन जिंदगी को आगे तो बढ़ाना ही है. ऐसे में एक के गम में पूरी जिंदगी का मजा खराब करना ठीक नहीं. इस दुख से खुद को बाहर निकालने के लिए नया पार्टनर ढूंढ़ें. यह पार्टनर आप को सोशल साइट्स या फिर अपने आसपास खास दोस्तों के बीच भी मिल सकता है.

हो सकता है कि इस दुख से उबारने में आप का कोई अन्य दोस्त आप की मदद करे और आप एकदूसरे के इतने करीब आ जाएं कि आप को भी इस बात का पता न चल पाए. फिर आप को एकदूसरे का साथ व बातें इतनी अच्छी लगने लगेंगी कि आप को अपने ऐक्स पार्टनर की कभी याद नहीं आएगी.

सोशल साइट्स पर रहें ऐक्टिव

ब्रेकअप के बाद अकसर हम उन सभी चीजों से कटने की कोशिश करते हैं जो हमें पार्टनर की याद दिलाती हैं जैसे ब्रेकअप से पहले हम फेसबुक पर डीपी खूब अपडेट करते रहते थे लेकिन बाद में इस से दूरी बनाने लगते हैं जिस से हमारी दुनिया सिर्फ  हम तक ही सीमित रह जाती है जबकि ऐसा करना सही नहीं है.

आप सोशल साइट्स पर ऐक्टिव रह कर दिखा दें कि उस के बिना आप की जिंदगी बेहतर हो गई है. डेली आप की न्यू डीपी देख कर वह जलन महसूस करेगा. हो सकता है वह भी डेली डीपी चेंज करे तो इस से आप बिलकुल जैलेस फील न करें बल्कि इसे एक चैलेंज की तरह ऐक्सैप्ट करें कि अब मैं खुद को कमजोर नहीं पड़ने दूंगी. इस से आप खुद में एक अलग कौन्फिडैंस पाएंगी.

ऐक्स बौयफ्रैंड से कटें नहीं

हो सकता है कि एक ही कालेज में पढ़ते हुए या फिर साथ जौब करते हुए आप की उस से फ्रैंडशिप हो गई हो और ब्रेकअप के बाद आप का रोज उस से सामना हो तो आप बिलकुल रिऐक्ट न करें बल्कि नौर्मल बिहेव करें.

अगर वह आप की बात का जवाब न दे तो भी मन छोटा न करें और सोचें कि अच्छा है कि समय रहते आप का उस से ब्रेकअप हो गया. जितना आप अपने प्रति उस का खराब रवैया देखेंगी उतनी ही आप को उसे भूलने में आसानी होगी.

एक बार कटें तो कट ही जाएं

एक बार अगर उस से दूरी बना ली है तो फिर कभी भी फेक नंबर्स से कौल कर के या फिर आवाज बदल कर बात करने की कोशिश न करें, क्योंकि इस से आप की हिम्मत टूटेगी. उस की आवाज सुन कर आप खुद को कमजोर महसूस करेंगी और चाह कर भी अपनी जिंदगी को आगे नहीं बढ़ा पाएंगी. साथ ही कभी भी उस के किसी फ्रैंड से इस बारे में कोई बात न करें और न ही किसी के सामने गिड़गिड़ाएं कि प्लीज मेरी बात उस से करवा दो. इस से आप की नैगेटिव इमेज बनेगी और जब यह बात उस तक पहुंचेगी तो उसे लगेगा कि आप उस के बिना नहीं रह पाएंगी.

अपने मन में ठान लें कि अब कभी पलट कर आप उस की तरफ नहीं देखेंगी. इस से आप स्ट्रौंग बनेंगी.

फ्रैंड्स के सामने दुखड़ा न रोएं

माना कि आप काफी कठिन परिस्थिति से गुजर रही हैं लेकिन यह दुख सिर्फ आप का है, जिसे सिर्फ आप ही महसूस कर पाएंगी.

आप जब भी कभी फ्रैंड्स से मिलें और उन के सामने यही दुखड़ा रोने लग जाएं कि यार, उस ने मुझे धोखा दिया है, मैं उस के बिना नहीं रह सकती, मेरी जिंदगी तो जैसे थम सी गई है तो आप की हर बार यही पकाऊ व उदासी भरी बात सुन कर वे आप से कटने लगेंगे.

आप अपने फ्रैंड्स के सामने कभी यह उजागर न करें कि आप बे्रकअप से कितनी दुखी हैं बल्कि इस दुख से बाहर निकलने के लिए उन के साथ हंसीमजाक करें, खुद को ऐनर्जैटिक दिखाएं, जिस से वे भी आप की मिसाल दें कि आप ने कितनी विपरीत परिस्थिति में खुद को संभाला है. आप का ऐसा व्यवहार आप को आगे भी अन्य समस्याओं को बोल्डली हैंडिल करने की ताकत देगा.

लोगों को फेस करें

अकसर ब्रेकअप के बाद हम लोगों को फेस करने में हिचकते हैं. हमें लगता है कि लोग हमारे बारे में तरहतरह की बातें करेंगे जबकि हमें बोल्डली ऐसे लोगों का सामना करना चाहिए.

भले ही लोग आप को गलत ठहराएं, लेकिन आप भी अपना पक्ष रखे बिना वहां से वापस न आएं. इस से आप को हर स्थिति को हैंडिल करना आएगा.

क्लोज फ्रैंड से शेयर करें प्रौब्लम

अगर आप हर पल सिर्फ उस के बारे में ही सोचती रहती हैं, आप की नजर फोन पर ही टिकी रहती है और आप के मन में अभी भी एक आशा की किरण जगती है कि शायद आप दोनों फिर से एक हो जाएं तो आप ऐसी सोच पाल कर सिर्फ अपनेआप को ही दुखी करेंगी. ऐसे में अपनी प्रौब्लम अपने क्लोज फ्रैंड से डिस्कस करें.

फ्रैंड को बताएं कि आप चाह कर भी उस की यादों से बाहर नहीं निकल पा रही हैं. आप की स्थिति को जान कर वह निश्चय ही आप को ऐसी राय देगा/देगी जो आप को इस दुख से बाहर निकलने में मदद करेगी.

लेकिन आप को भी अपनी तरफ से प्रयास करना होगा कि आप उस के दिए सभी गिफ्ट्स अपनी नजरों से दूर कर दें, क्योंकि जब तक प्रेमी की दी चीजें आंखों के सामने रहेंगी, दुख तो पहुंचेगा ही. फोन से भी उस का नंबर डिलीट कर दें. आप की ऐसी कोशिश आप को स्ट्रौंग बनाने के साथसाथ उसे भूलने में भी मदद करेगी.

खुल कर जीएं जिंदगी

अकसर जब हम रिलेशनशिप में होते हैं तो हम पर बहुत सारी बंदिशें होती हैं जैसे यहां नहीं जाना, उस से बात नहीं करनी, ऐसे कपड़े नहीं पहनने, लेट नाइट पार्टीज में नहीं जाना वगैरावगैरा, जिस से हमारी लाइफ सिर्फ बौयफ्रैंड तक ही सिमट कर रह जाती है.

लड़ाईझगड़े के डर से हम अपनी ख्वाहिशें मन में ही दबा लेते हैं, लेकिन बे्रकअप के बाद वे सारी बंदिशें खत्म हो जाती हैं. अब आप जैसे मरजी अपनी लाइफ जीएं. तब जो काम आप के अधूरे रह गए थे अब उन्हें पूरा करें, बौयफ्रैंड के चक्कर में जिन फ्रैंड्स से आप ने दूरी बना ली थी उन से भी सौरी फील कर के मिलेंजुलें. इस से आप खुद को व्यस्त रख पाएंगी, जिस से आप में एक अलग आत्मविश्वास आएगा.

फन विद फैमिली

अगर आप खुद को तनावग्रस्त महसूस कर रही हैं तो फैमिली के साथ कहीं आउटिंग पर जाने का प्रोग्राम बनाएं, जिस से आप को उस से दूर रहने की आदत पड़ जाएगी. साथ ही चेंज मिलने से आप का मूड भी अच्छा होगा. इन दिनों आप अपना फोन भी घर पर ही छोड़ कर जाएं ताकि फोन की रिंग भी आप की खुशी को कम न करने पाए.

डांस सीखें

अगर आप की डांस सीखने में रुचि है तो आप डांस क्लासेज जौइन कर लें. वहां आप के नए फ्रैंड्स तो बनेंगे ही साथ ही आप में डांस सीखने का हुनर भी आएगा. गानों की धुनों पर जब आप थिरकेंगी तो यकीन मानिए आप सारे दुखों को भूल जाएंगी. डांस सीखने से कौन्फिडैंस भी बढ़ता है.     

सैलिब्रिटीज ने भी नहीं थमने दी ब्रेकअप के बाद जिंदगी

हर बात में हम बौलीवुड सैलिब्रिटीज का उदाहरण देते हैं, चाहे बात लुक्स की हो, फैशन में अपडेट रहने की या फिर पार्टनर के गम से जल्दी उबर कर काम में बैस्ट परफौर्मैंस दिखाने की.

कुछ सैलिब्रिटीज को भी जीवन में ब्रेकअप के गम से रूबरू होना पड़ा, लेकिन उन्होंने अपने जीवन की रफ्तार में बे्रक नहीं लगने दिया. इस बात से तो सभी परिचित हैं कि रणबीर कपूर और दीपिका पादुकोण रिलेशनशिप में रह चुके हैं, लेकिन ब्रेकअप के बाद दीपिका काफी मायूस रहने लगी थीं. जब उन्हें एहसास हुआ कि इस से उन का काम सफर कर रहा है, तो उन्होंने खुद को संभाला और फिर ऐसी स्पीड पकड़ी कि सब देखते रह गए.

ठीक इसी तरह फिरोज खान ने भी सिद्ध कर दिखाया कि कभी भी किसी एक के कारण जिंदगी नहीं थमती. ‘साथ निभाना साथिया’ सीरियल में किंजल का किरदार निभाने वाली फिरोज खान को दिल्ली निवासी शाकिर चौधरी से प्यार हो गया था. यहां तक कि इन की सगाई भी हो गई थी, लेकिन किसी कारणवश बे्रकअप हो गया, बावजूद इस के वे टूटी नहीं और उन्होंने अपने गम को भुलाने के लिए न केवल काम में मन लगाया बल्कि फेसबुक पर चैट भी जारी रखी. इस बीच उन की मुलाकात डाक्टर जीशान अली से हुई. दोस्ती कब प्यार में बदल गई उन्हें पता ही नहीं चला.

जीशान के जिंदगी में आने के बाद उन्हें शाकिर की कभी जरा भी याद नहीं आती, क्योंकि जीशान में उन्हें सच्चा प्यार दिखता है.

एक टीवी चैनल पर आने वाले सीरियल ‘ये हैं मोहब्बतें’ में इशिता भल्ला का किरदार निभा रहीं दिव्यंका त्रिपाठी का भी शरद मल्होत्रा से ब्रेकअप हो गया. वे शरद के साथ लिव इन रिलेशन में भी रह चुकी थीं. ब्रेकअप के बाद वे काफी तनाव महसूस करने लगीं तभी उन की मुलाकात विवेक दहिया से हुई जिस में न केवल उन्हें अच्छा दोस्त मिला बल्कि जीवनसाथी भी मिल गया.

इन बातों का ध्यान रखें

–               न्यू पार्टनर के सलैक्शन में जल्दबाजी न करें.

–               खुद की कमियों पर गौर करें. जैसे अगर आप बहुत जल्दी गुस्सा हो जाती हैं तो अपने व्यवहार में परिवर्तन लाएं.

–               अपने सीक्रेट किसी को न बताएं.

–               ऐक्स बौयफ्रैंड को जैलेस फील कराने के लिए फेसबुक पर अनजान युवकों से दोस्ती न करें, क्योंकि आप का ऐसा करना आप पर भारी पड़ सकता है.

–               ब्रेकअप के बाद सुसाइड जैसे कदम न उठाएं, क्योंकि इस से दाग आप पर लगने के साथसाथ आप के पेरैंट्स का भी नाम खराब होगा