सरिता विशेष

एक अंगरेजी वैबसाइट के अनुसार सेमी पहले अपने बौयफ्रैंड के साथ काफी लंबे समय तक रही, लेकिन किसी वजह से उस का उस से ब्रेकअप हो गया, जिस के बाद वह बिलकुल अकेली पड़ गई. वह डिप्रैशन में चली गई, उसे समझ नहीं आ रहा था कि वह क्या करे. इस के बाद सेमी ने पढ़ाई के साथसाथ एक पार्टटाइम जौब जौइन की और ब्रेकअप से उबरने के लिए सैक्स का सहारा लेने लगी. वह अजनबी युवकों के साथ शारीरिक संबंध बनाने लगी. एक तरह से उसे सैक्स की लत लग गई थी, जिस कारण उस ने पढ़ाई तक छोड़ दी थी. यह सिर्फ सेमी की कहानी नहीं है बल्कि बहुत सी युवतियां हैं जो ब्रेकअप के बाद खुद को संभाल नहीं पातीं और गलत राह पर चल पड़ती हैं वे अपना कैरियर तक तबाह कर बैठती हैं. इस बारे में मनोचिकित्सक स्मिता देशपांडे का कहना है कि यह बात सही नहीं है. माना ब्रेकअप का होना जिंदगी में घटने वाली एक बहुत बड़ी घटना है, लेकिन अगर कोशिश की जाए और हिम्मत से काम लिया जाए तो इस गम से बाहर निकला जा सकता है.

पढ़ाई से मन हटना

एक बार मन जब सैक्स या इसी तरह के अन्य व्यसनों की तरफ चला जाता है तो मन पढ़ाई से कोसों दूर भागने लगता है. रातों की नींद और दिन का चैन उड़ जाता है और बस, इन्हीं बातों में ध्यान अटक जाता है. कालेज जाने पर भी साथी से मिलने का खयाल बेचैन किए रखता है. लैक्चर अटैंड कर भी लिए तो जो पढ़ाया वह समझ से बाहर हो जाता है, क्योंकि दिल तो कुछ और ही चाहता है. ऐसी स्थिति में नोट्स बनाना व पढ़ना कहीं पीछे छूट जाता है.

सैक्स की लत

‘लत लग गई… लग गई मुझे तो तेरी लत लग गई…’ यह गाना तो आप ने सुना ही होगा. एक बार सैक्स की लत लग जाने पर बारबार उस की तलब उठती है और जब साथी पास न हो या उस से ब्रेकअप हो जाए तो युवा उस के लिए सैक्स टौयज आदि का सहारा लेना शुरू कर देते हैं जोकि हर वक्त सही नहीं रहता. दूसरे, इस के बारे में अगर घर वालों को पता चल जाए तो छोटे या बडे़ भाईबहनों के सामने शर्मिंदगी महसूस होती है सो अलग. इसलिए सैक्स रिलेशनशिप में रहने के बाद जब ब्रेकअप होता है तो उस से बहुत सी मैंटल और फिजिकल प्रौब्लम्स हो जाती हैं.

सैक्स के साइड इफैक्ट

असुरक्षित यौन संबंध बनाने पर कई बार कुछ ऐसी जानलेवा बीमारियां लग जाती हैं जिन की वजह से पूरी जिंदगी खतरे में पड़ जाती है. साथ ही अगर किसी गलत जगह पर सैक्स किया जाए तो ब्लैकमेलिंग आदि का शिकार भी हो सकती हैं.

दोबारा भरोसा करना मुश्किल

एक बार ब्रेकअप के बाद किसी दूसरे पर भरोसा करना बहुत मुश्किल होता है. कई बार युवतियां इस वजह से डिप्रैशन में चली जाती हैं और अगर ब्रेकअप सैक्स के बाद हुआ हो तब तो सिचुऐशन और भी नाजुक हो जाती है.

कई युवतियां बहुत भावुक होती हैं और उन्हें लगता है कि उन्होंने शादी से पहले यह सब क्यों किया. यही सब सोच कर वे खुद से घृणा करने लगती हैं और सभी युवकों को धोखेबाज समझती हैं. युवकों से दोस्ती करना तो दूर वे उन से बात करने से भी कतराने लगती हैं, जो सही नहीं है. जो हुआ वह गलत था लेकिन जिंदगी आगे बढ़ने का नाम है.

ध्यान दें

पौजिटिव सोचें

कुछ युवकों का इंटै्रस्ट युवतियों में सिर्फ सैक्स तक ही होता है. एक बार सैक्स करने के बाद उन का मतलब पूरा हो जाता है और वे अपने रास्ते चल पड़ते हैं. वैसे तो यह स्थिति युवती के लिए दुखद ही है, लेकिन एक तरह से देखा जाए तो बात शादी तक पहुंचे और फिर रिश्ता टूटने से बेहतर है कि अभी यह बात पता चल गई और समय रहते आप एक बड़े धोखे से बच गईं. इस सदमे से उबरने में समय तो लगेगा, लेकिन पूरी जिंदगी बरबाद होने से बच जाएगी.

जल्दबाजी न करें

एक बार ब्रेकअप हो जाने के बाद जीवन में जो कमी आई है उसे भरने के लिए जल्दबाजी में कोई दूसरा बौयफ्रैंड बना लेना सही नहीं है. एक बार आप इस तरह के रिलेशन को भुगत चुकी हैं इसलिए दोबारा इस में न फंसें.

प्रैग्नैंसी टैस्ट करें

अगर सैक्स करने के कुछ ही दिन के अंतराल में ब्रेकअप हो गया है तो नजर रखें कि कहीं गलती से आप प्रैग्नैंट तो नहीं हो गईं, अगर ऐसा हो गया है तो बिना घबराए ठंडे दिमाग से इस बारे में सोचविचार करें कि आगे क्या करना है और कैसे करना है. अपने किसी खास को विश्वास में ले कर उस से इस बारे में बात करें.

तुलना न करें

अगर आप की जिंदगी में कोई दूसरा बौयफ्रैंड आ गया है, तो उस की तुलना पहले वाले से न करें. यह भी न सोचें कि वह सैक्स करने में अच्छा था और यह नहीं है. सैक्स करने और इस की फीलिंग्स सब में अलगअलग होती है इसलिए एक की तुलना दूसरे से करेंगी तो किसी भी रिलेशनशिप में न संतुष्ट हो पाएंगी और न ही खुश रह पाएंगी.

अपना मजाक न बनाएं

अपने पहले प्यार और सैक्स के किस्से अपने दोस्तों के बीच न सुनाएं, क्योंकि इस से आप स्वयं अपनी जगहंसाई करवाएंगी और अपने दोस्तों के बीच गौसिप का कारण बन कर रह जाएंगी.

आप के दोस्त आप से आप का दुख बांटने के लिए बौयफ्रैंड के किस्से सुनेंगे और उन में से कुछ लोग पीठ पीछे उन्हीं बातों को दोहरा कर आप का मजाक बनाएंगे साथ ही वे आप की गलतियां ढूंढ़ढूंढ़ कर बातें बनाने से भी बाज नहीं आएंगे.

इसलिए बेहतर है कि अगर आप कुछ शेयर ही करना चाहती हैं तो अपनी किसी खास दोस्त के साथ अकेले में बात करें और उसे भी हिदायत दे दें कि किसी से न कहे और न ही पूरे ग्रुप के सामने शुरू हो जाए.

ब्रेकअप के बाद क्या करें

–  सब से पहले खुद को संभालें, उस के लिए बिजी रहना सब से अच्छा औप्शन है. जब आप के पास कुछ सोचने का समय ही नहीं होगा तो फिर मन इधरउधर भटकेगा नहीं और आप अपने गम से बाहर निकल पाएंगी.

– अपने ऐक्स बौयफ्रैंड से दोबारा मिलने की कोशिश न करें. एक बार रिश्ते में दरार पड़ जाती है तो फिर उसे दोबारा भरना मुश्किल होता है.

– सैक्स की आदत हो गई है तो उस के लिए तुरंत पार्टनर ढूंढ़ने के बजाय सब्र से काम लें, अगर हड़बड़ाहट दिखाएंगी तो दोबारा धोखा मिलने के अधिक चांस रहेंगे.

– अपनी पढ़ाई पर ध्यान दें, ये सब करने के लिए पूरी उम्र पड़ी है. कम से कम कुछ समय के लिए बे्रक लें और बिना बौयफ्रैंड के जिंदगी बिताएं, खाली समय अपने परिवार और रिश्तेदारों के साथ बिताएं. ऐसा करना बौयफ्रैंड को भूलने में भी मददगार होगा और आप अपने घर वालों के करीब भी आ पाएंगी.

– आप दुखी हैं तो इस का यह अर्थ नहीं कि खुद को नजरअंदाज करें. दोस्तों के साथ समय व्यतीत करें. अपना कोई पुराना शौक दोबारा शुरू करें. इस से आप को गम भुलाने में काफी मदद मिलेगी.        

युवतियां ब्रेकअप के बाद भी करती हैं अपने ऐक्स बौयफ्रैंड के साथ सैक्स

अकेले रहने वाली युवतियों में से आधे से ज्यादा युवतियां नए पार्टनर तलाशने के दौरान अपने ऐक्स बौयफ्रैंड के साथ सैक्स करती हैं. चौंकिए मत, एक सर्वे से यह खुलासा हुआ है. इस सर्वे में लगभग 1 हजार युवतियों और युवकों ने भाग लिया था. अधिकतर युवतियों का कहना था कि वे अपने ऐक्स के साथ सैक्स करती हैं क्योंकि वे फिजिकल टच को बहुत मिस करती हैं.

इस सर्वे में 31 फीसदी युवतियों ने यह माना कि वे इस उम्मीद पर ऐक्स बौयफ्रैंड के साथ संबंध बनाती हैं कि उन के रिश्ते में सुधार हो सके. वहीं 43 फीसदी लड़कियों ने माना कि वे नए पार्टनर की तलाश के दौरान ऐक्स से सैक्स करती हैं. वहीं 47 फीसदी युवकों ने भी इस बात को स्वीकार किया यानी युवतियों से अधिक युवक नए पार्टनर की तलाश के दौरान ऐक्स गर्लफ्रैंड के साथ सैक्स करते