सवाल
मैं मौडर्न विचारों वाली 33 वर्षीया महिला हूं. मेरी शादी को 2 वर्ष हो गए हैं और मैं अपने देवर से काफी घुलमिल गई हूं जो मेरे पति को बिलकुल भी पसंद नहीं है. मैं अपने देवर के साथ ही घूमनेफिरने व शौपिंग वगैरह पर जाती हूं. इस वजह से पति के साथ मेरे संबंध अच्छे नहीं रह गए हैं. मेरी देवर के साथ इस तरह घनिष्टता बढ़ानी ठीक है या नहीं?

जवाब
आज हम चाहे कितनी भी मौडर्न सोसायटी में रह रहे हों या फिर मौडर्न खयालों के हों, लेकिन फिर भी हमें हर रिश्ते की सीमाओं को समझ कर चलना चाहिए वरना जिंदगी मुश्किल बन जाती है.

आप ने यह नहीं बताया कि आप के पति आप के साथ रह रहे हैं या फिर बाहर वर्किंग हैं. अकसर ऐसा देखने में आता है कि ज्यादा दूरियों की वजह से ही इस तरह की दिक्कतें आती हैं. हो सकता है कि आप के साथ भी ऐसा ही हुआ हो जिस की वजह से आप ने देवर के साथ घनिष्टता बढ़ाई हो. लेकिन इस से आप का रिश्ता टूट सकता है.

समझदारी इसी में है कि अपनी समस्या पति को बताएं ताकि वे आप की समस्या को समझ कर आप को समय देना शुरू करें या फिर अपने साथ ही ले जाएं जिस से आप का रिश्ता मजबूत बन सके. लेकिन भूल कर भी आप रिश्तों की सीमाएं न लांघें वरना दोनों के बीच बढ़ती दूरियों को कम करना मुश्किल हो जाएगा.

वैसे आज के युग में पतियों को समझना चाहिए कि उन का पत्नियों पर एकाधिकार नहीं चलेगा और पत्नी के दोस्तों, जिन में देवर भी शामिल है, को सहज लेने की कोशिश करना अनिवार्य है.