सरिता विशेष

दिल्ली के बवाना इलाके की एक जनसभा को संबोधित करने के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल गए तो कुछ लोगों ने उन्हें काला कपड़ा दिखाने की हिमाकत कर डाली जिस से भड़क कर उन्होंने दोटूक कहा कि भाजपाई अपनी औकात में रहें, नहीं तो ऐसे जूते पड़ेंगे कि उन्हें अपनी शक्ल भी याद नहीं रहेगी.

इस भड़कने के पीछे की एक अहम वजह दिल्ली में लगने वाले डेढ़ लाख सीसीटीवी कैमरे भी हैं जिस की फाइल उपराज्यपाल ने अटका रखी है. भाजपाइयों को जूते मारने की धौंस के तुरंत बाद उन्होंने यह भी कहा कि अब दिल्ली की जनता एलजी के घर पहुंचेगी तो सहज समझा जा सकता है कि दरअसल, वे किस से क्या कहना चाह रहे थे.