सरिता विशेष

लोग नेता बनने के लिए ट्रेनिंग लेते हैं, लेकिन दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ऐसे हैं जो नेता बनने के बाद नेतागीरी के गुण सीख रहे हैं. उन्होंने उन नेताओं से माफी मांग ली जिन के खिलाफ थोक में आरोप उगले थे. इस अप्रत्याशित कदम पर हर कोई चौंका और आम आदमी पार्टी में तो बगावत की सी स्थिति बन गई.

क्षमा वाकई वीरों का आभूषण है और आजकल वीर क्षमा करने वाला नहीं, बल्कि मांगने वाला माना जाता है. यह और बात है कि केजरीवाल की इस वीरता के पीछे कई परेशानियां व मजबूरियां छिपी हैं, मसलन कौन दिल्ली सेवा छोड़ वकीलों व अदालतों की परिक्रमा करे, वह भी यह जानतेसमझते हुए कि जमाना ठीक नहीं और अदालतों का मूड भी उखड़ाउखड़ा सा रहता है.

VIDEO : प्रियंका चोपड़ा लुक फ्रॉम पीपुल्स चॉइस अवार्ड मेकअप टिप्स

ऐसे ही वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक कर SUBSCRIBE करें गृहशोभा का YouTube चैनल.