आम आदमी पार्टी के 2 विधायकों प्रकाश जारवाल और अमानतुल्ला खान ने दिल्ली के चीफ सैक्रेटरी अंशु प्रकाश को मीटिंग में आधी रात को थप्पड़ मारे थे या नहीं, उम्मीद की जानी चाहिए कि अगले विधानसभा चुनाव से पहले अदालत में इस बारे में कोई फैसला हो जाएगा.

असल फसाद आप बनाम एलजी और भाजपा है जो इस बवंडर में दब गया और बेचारे चीफ सैक्रेटरी साहब बेवजह बलि का बकरा बन गए, जिन पर आप का आरोप है कि वे आम लोगों के हितों से जुड़े सवालों व बातों पर गौर ही नहीं कर रहे थे.

अपने साथी की बेइज्जती पर देशभर के आईएएस अधिकारी इकट्ठा हो गए. इस बाबत उन्हें गृहमंत्री राजनाथ सिंह की शह मिली हुई थी जिन्होंने इस कथित थप्पड़ को अफसरशाही के स्वाभिमान से जोड़ दिया था. रिपोर्ट दोनों पक्षों ने लिखाई लेकिन आम राय आप के पक्ष में जा रही है, तो इस की वजह यह थप्पड़ नहीं, बल्कि वे साहब लोग हैं जो सरकार को अपने इशारों पर नाचते देखने के आदी हो गए हैं.

VIDEO : न्यूड विद ब्लैक कैवियर नेल आर्ट

ऐसे ही वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक कर SUBSCRIBE करें गृहशोभा का YouTube चैनल.