सरिता विशेष

राजनीति में रत्तीभर दिलचस्पी न रखने वाला आदमी भी एक भविष्यवाणी तो पूरे आत्मविश्वास से कर सकता है कि 2019 के लोकसभा चुनाव में कोई कहीं से भी लड़े, पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी इस बार फिर अमेठी से लोकसभा चुनाव लड़ेंगी. इस अनुमान का इकलौता आधार स्मृति का अमेठी मोह और सक्रियता है.

लड़ तो लेंगी, पर दिनोंदिन मजबूत होते जा रहे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से जीतेंगी कैसे, इस सवाल पर दिमाग खपाने वालों की चिंता दूर करते स्मृति ने अमेठी का अचार लौंच कर दिया है जिस के बारे में उन का कहना है कि इसे प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के तहत अमेठी की महिलाओं ने तैयार किया है.

अचार के प्रचार से लगता नहीं कि वे गांधी परिवार के इस गढ़ में सेंध लगा सकती हैं. अगर अमेठी से स्मृति ईरानी लड़ीं तो वे अमेठी अचार को भुनाने से चूकेंगी नहीं. देखना दिलचस्प होगा कि जवाब में कांग्रेस अमेठी की चटनी, पापड़ या मुरब्बा लाती है या नहीं.