फिल्म ‘वजीर’ की रिलीज के तीन दिन बाद अमिताभ बच्चन ने फिल्म ‘‘वजीर’’ की सफलता के लिए ट्विटर पर दर्शकों को धन्यवाद अदा करते हुए लिखा-‘‘फिल्म ‘वजीर’ की सफलता के लिए आपके प्यार, सराहना और संरक्षण के लिए धन्यवाद.’’अमिताभ बच्चन के इस ट्वीट के बाद से ही बालीवुड के पंडितों के बीच फिल्म की सफलता को लेकर चर्चाएं शुरू हो गयी. फिल्म ‘‘वजीर’’ ने पहले सप्ताह में साढ़े उन्तीस करोड़ रूपए कमाए. यह बाक्स आफिस का ग्रास कलेक्शन है. सूत्रों के अनुसार ग्रास क्लेक्शन में से मनोरंजन टैक्स व अन्य खर्चे निकालने के बाद निर्माता के हाथ में मुश्किल से पैंतीस प्रतिशत ही आता है. इस हिसाबसे साढ़े उन्तीस करोड़ में से निर्माता के हाथ में कितने रूपए आए होंगे, इसका अंदाजा लगाया जा सकता है.

यहां यह भी याद रखना होगा कि फिल्म ‘‘वजीर’’ के निर्माण की लागत पैंतीस करोड़ रूपए है. तो अब यह फिल्म वास्तव में कितनी सफल है, इसका आकलन करने में बौलीवुड पंडित अपना दिमाग लगा रहे हैं. क्या फिल्म की लागत वसूल हुए बगैर भी फिल्म सफल मानी जानी चाहिए? यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि गत वर्ष रिलीज हुईअमिताभ बच्चन की फिल्म ‘‘पीकू’’ ने पहले सप्ताह में 41 करोड़ बयालिस लाख रूपए कमाए थे.

यदि बाक्स आफिस कलेक्शन पर गौर किया जाए, तो मजेदार बात यह है कि अमिताभ बच्चन के अभिनय से सजी फिल्म ‘‘वजीर’’ ने पहले सप्ताह में सिर्फ साढ़े उन्तीस करोड़ कमाए. जबकि रणवीर सिंह और दीपिका पादुकोण के अभिनय से सजी फिल्म ‘‘बाजीराव मस्तानी’’ ने ‘वजीर’ को जबरदस्त टक्कर देते हुए चौथे सप्ताह में दस करोड़ से अधिक कमा लिए.