हर पिता का कर्तव्य होता है कि वह अपने बेटे को पहली पंक्ति में बैठने योग्य बना दे. इस बात को ध्यान में रखकर अभिनेता रितिक रोशन अपने दोनों बेटों हे्रहान और हृधान को बेहतर परवरिश देने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा रहे हैं. इन दिनों वह अपने बच्चों के साथ ज्यादा समय बिताने लगे हैं. क्योंकि पत्नी से तलाक लेने के बाद अब वह अपने बेटों को पिता और मां दोनों का प्यार दे रहे हैं.

इन दिनों हृतिक रोशन अपने दोनो बेटों के साथ क्रिसमस और नए वर्ष की छुट्टियां बिताने के लिए फ्रांस के आल्प्स में कोर्चवेल रिसोर्ट में स्कीइंग छुट्टियां मनाने गए हैं. वास्तव में रितिक रोशन के दोनों बेटे हे्रहान और हृधान साहसिक व रोमांचक खेलों के शौकीन हैं. अपने आपको अपने बेटों की तरह रोमांचक खेलों में माहिर बनाने के लिए रितिक रोशन ने फ्रांस जाने से पहले गुप्त रूप से खुद काफी तैयारी की थी.

फ्रांस रवाना होने से पहले रितिक रोशन ने खुद अपनी कमजोरी व अपनी ट्रेनिंग की चर्चा करते हुए बताया-‘‘जब साहसिक  व रोमांचक खेलों का मसला आता है, तो मैं खुद को अपने बच्चों से काफी पीछे पाता हूं. रोमांचक खेलों का नाम सुनकर मैं काफी नर्वस हो जाता था. इसलिए इस बार इस कौशल में खुद को निपुण करने के लिए मैंने अपने बेटों को बिना बताए ट्रेनिंग ली. मुझे पता है कि मेरे बेटे चाहते हैं कि पहाड़ो की चढ़ाई करनी हो या बर्फ पर धमाल करना हो, तो उनके पिता उन्हीं के समकक्ष कदमताल करें. इसलिए जब मैं अपने प्रोफेशनल काम से तीन सप्ताह पहले दुबई गया था, तब मैंने अपने काम के बीच समय निकाल कर स्कीइंग की ट्रेनंग लेने के साथ साथ प्रैक्टिस भी की थी. अब मेरे अंदर आत्मविश्वास आ गया है कि मैं अपने बेटों का इस बार रोमांचक खेलों में बराबर साथ दे सकता हूं.’’

रितिक रोशन की फिल्म ‘‘काबिल’’ 25 जनवरी को प्रदर्शित होने वाली है. मगर अपने बेटों की खुशी के लिए वह समय निकालकर उनके साथ क्रिसमस और नए वर्ष की छुट्टी मनाने फ्रांस के रिसोर्ट गए हैं. इस बार रितिक रोशन के साथ उनके दोनों बेटे, उनकी मां पिंकी रोशन व उनका चचेरा भाई भी गया है.