अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त अभिनेता सुनील शर्मा हमेशा कुछ नया रिकार्ड बनाते रहे हैं. हिंदी भाषी सीरियलों, राजस्थानी व हिंदी के अलावा दक्षिण की हर भाषा की फिल्मों में अभिनय कर चुके सुनील शर्मा के नाम के साथ कई रिकार्ड जुड़ चुके है. सुनील शर्मा दक्षिण भारत के उन चंद दिग्गज कलाकारों में से हैं, जिन्होने 2007 में प्रदर्शित फिल्म ‘‘बुद्धा’’ में शीर्ष भूमिका निभाकर एक नया रिकार्ड बनाया था. अप्रवासी भारतीय फिल्मकार के राजशेखर ने हिंदी, अंग्रेजी और तेलगू में अंतरराष्ट्रीय स्तर की फिल्म ‘‘बुद्धा’’ का निर्माण किया था. इस फिल्म को ग्यारह विदेषी भाषाओं में डब किया गया था और इसका विश्व प्रीमियर 14 दिसंबर 2007 को अमरीका में हुआ था.

दक्षिण चर्चित फिल्मकारों बापू व रामोजी राव के साथ कई फिल्मों व धारावाहिकों में मुख्य भूमिका निभा चुके सुनील शर्मा अब पहली बार भोजपुरी भाषा की राजाराम कनौजिया की फिल्म ‘‘रानी हम हो गइली तोहार’’ में मुख्य विलेन बनकर आ रहे हैं. लेखक व निर्देशक प्रकाश आंनद की इस फिल्म में राजस्थानी फिल्मों की चर्चित अदाकारा नेहा श्री हीरोईन और गौरव झा हीरो हैं.

मजेदार बात यह है कि हर कलाकार किसी न किसी ईमेज में कैद हो जाता है. लेकिन भगवान शंकर, राम, कृष्ण जैसे धार्मिक किरदार निभाने के अलावा वह कई फिल्मों में खलनायक व नायक के किरदार निभा चुके हैं. सुनील शर्मा पहले भारतीय अभिनेता हैं, जिन्हे अंतरराष्ट्रीय पत्रिका ‘मिशीमी’ के मुख्य पृष्ठ पर जगह मिली.