बॉलीवुड सिंगर शाल्मली खोल्गडे के गाने हर पार्टी की शान बन गये हैं. ‘बेबी को बेस पंसद है’, और ‘बलम पिचकारी’  से गानों की गायिका के सबसे अधिक पार्टी सांग बजते हैं. शाल्मली खोल्गडे कहती हैं ‘अब गायकी का दौर बदल रहा है. गायकों का स्टेज पर एक अच्छा परर्फामर होना भी जरूरी होता है. गायक अब केवल फिल्मों में प्ले बैंक सिंगर भर नहीं रह गया है. यही वजह है कि अच्छे सिंगिग शो में गायक को परफार्मर की तरह से तराशा जाता है.

ऐसे में गायिका की ग्लैमरस छवि कैरियर को आगे बढ़ाने में अहम रोल रखती है. शाल्मली खोल्गडे स्टार प्लस के सिंगिंग रियल्टी शो ‘दिल है हिन्दुस्तानी’ में करण जौहर और शेखर के साथ जज की भूमिका में हैं. इस शो में देश के बाहर के गायक, बैंड और आर्केस्ट्रा भी हिस्सा ले रहे हैं. शाल्मली खोल्गडे गानों में वेस्टन म्यूजिक के हुनर पर नजर रखेंगी.

फिल्मी गायन, रियल्टी शो के साथ ही साथ शाल्मली खोल्गडे अपना एक नया म्यजिक वीडियो भी बना रही हैं. जिसको वह यूट्यब पर रिलीज करेंगी. इस गाने के जरीये वह नारी सशक्तीकरण के मुद्दे को आगे बढ़ायेंगी. मराठी मूल की शाल्मली खोल्गडे बहुत अच्छी हिंदी बोलती हैं. वह कहती हैं जब मैं फिल्मों में कैरियर की राह में आगे बढ़ी तो सबसे अधिक मेहनत हिंदी सीखने में करनी पड़ी. मैंने स्कूल के समय में हिन्दी विषय लिया था पर असल में हिन्दी मुझे बाद में ही आई.’

बैंगलुरू में नये साल के जश्न में लड़कियों से हुई छेड़छाड़ के मुद्दे पर शाल्मली खोल्गडे ने कहा कि ऐसे मामले अक्सर होते रहते हैं. इनको रोकने के लिये कानून के साथ ही साथ समाज को भी आगे आना होता है. अगर समाज के लोग आगे बढ़ कर इस तरह की घटना का विरोध करते तो उसको रोका जा सकता है. छोटे बड़े कपडों और गानों के बोल को जिम्मेदार ठहराने से सुधार नहीं आयेगा.

27 साल की शाल्मली खोल्गडे को एक्टिंग का शौक भी है. वह थियेटर आर्टिस्ट रही हैं. अभी उनका फोकस सिंगिंग पर है. वह अपनी संतुष्टि के लिये अपने मनपंसद गानों के सिंगल वीडियो भी निकालती रहेंगी. शाल्मली खोल्गडे कहती है ‘फिल्मों में हमें म्यूजिक डायरेक्टर की पंसद से गाना होता है. सिंगल वीडियों में मैं अपनी पंसद से गा सकती हूं. ऐसे में मुझे खुद को संतोष मिलता है.