आगामी 26 जनवरी 2017 को बाक्स आफिस पर दो फिल्में ‘रईस’ और ‘काबिल’ टकराने वाली हैं. फिल्म ‘रईस’ में शाहरुख खान की मुख्य भूमिका है, तो वहीं ‘काबिल’ में रितिक रोशन की मुख्य भूमिका है. यानी कि ‘काबिल’ और ‘रईस’ एक ही दिन टकराएंगी. पहले शाहरुख खान ने अपनी तरफ से कोशिश की कि यह फिल्में एक ही दिन न टकराएं. शाहरुख खान ने खुद ही फिल्म ‘‘काबिल’’ के निर्माता राकेश रोशन ने बात की, पर मामला टांय टांय फिस्स रहा. बात आयी गयी हो गयी. राकेश रोशन झुकने के लिए तैयार नहीं हुए.

राकेश रोशन का तर्क था कि उन्होंने सबसे पहले ‘काबिल’ के प्रदर्शन की तारीख घोषित की थी, इसलिए वह अपनी फिल्म के प्रदर्शन की तारीख नहीं बदलेंगे. शायद राकेश रोशन के दिमाग में रहा होगा कि शाहरुख खान की ‘दिलवाले’ और ‘फैन’ दो फिल्में असफल हो चुकी हैं, इसलिए उन्हे एक सफल फिल्म की बहुत ज्यादा जरुरत है. जबकि उनके बेटे रितिक रोशन की तो एक ही फिल्म ‘‘मोहनजो दाड़ो’’ ही असफल हुई है. यहां तक कि फिल्म ‘काबिल’ के निर्देशक संजय गुप्ता अब तक चुप थे. वह अपनी फिल्म की सफलता को लेकर पूरी तरह से आश्वस्त थे. उन्हे शाहरुख खान की फिल्म ‘रईस’ से नुकसान नजर नहीं आ रहा था.

लेकिन अब हालात बदल चुके हैं. एक तरफ बौलीवुड में ‘नोटबंदी’ बहुत बड़ा हौव्वा बना हुआ है. तो दूसरी तरफ शाहरुख खान की आलिया भट्ट के साथ वाली फिल्म ‘‘डियर जिंदगी’’ बाक्स आफिस पर अच्छा व्यापार कर रही है. इससे अब ‘काबिल’ से जुड़े लोगों में शायद एक डर पैदा हुआ है, तभी तो मुंबई के अंग्रेजी टेबलाइड दैनिक से बात करते हुए फिल्म ‘‘काबिल’’ के निर्देशक संजय गुप्ता ने शाहरुख खान को पठान बताते हुए कहा है कि शाहरुख खान को सलमान खान की फिल्म के साथ टकराना चाहिए न कि रितिक रोशन की फिल्म ‘काबिल’ से.

इस अंग्रेजी टेबलाइड से बात करते हुए संजय गुप्ता ने कहा है-‘‘दो फिल्मों का यह टकराव नही होना चाहिए. मेरी नजर में राकेश रोशन अपनी जगह सही हैं. उन्होंने सबसे पहले ‘काबिल’ के प्रदर्शन की तारीख 26 जनवरी 2017 घोषित की थी. शाहरुख खान जीवन मूल्यों पर यकीन करने वाले, आदर्शों पर चलने वाले इंसान हैं. वह पठान हैं. मुझे नहीं लगता कि वह किसी दूसरे के पैरों की उंगलियों पर अपना पैर रखना चाहेंगे. यदि उसी दिन किसी अन्य ने पहले अपनी फिल्म के प्रदर्शन की तारीख घोषित की होती, तो उसी दिन राकेश जी कभी भी अपनी फिल्म लेकर न आते. यह सम्मान हमें एक दूसरे के प्रति बरकरार रखना चाहिए.’’

इसके बाद संजय गुप्ता ने अपनी पीड़ा को व्यक्त करते हुए कहा-‘‘रितिक रोशन तो शाहरुख खान से दस साल छोटे हैं, इसलिए दोनों के बीच कोई प्रतिस्पर्धा ही नहीं है. शाहरुख खान की प्रतिस्पर्धा तो आमिर खान व सलमान खान के साथ है. मेरी नजर में यदि दोनों फिल्में एक साथ आएंगी, तो कोई भी फिल्म 150 करोड़ से ज्यादा का व्यापार नही कर पाएंगी. क्योंकि सामान्यतः बाक्स आफिस पर तीन सौ करोड़ से अधिक का व्यापार नहीं होता है. शाहरुख खान अपनी फिल्म के लिए तीन सौ करोड़ का व्यापार चाहते होंगे. मेरी समझ में नहीं आ रहा है कि वह क्यों अपनी फिल्म के व्यापार को सीमित करना चाहते हैं. मैं तो यही चाहूंगा कि टकराव नहीं होना चाहिए.’’