सरिता विशेष

1993 के बम ब्लास्ट के बाद आर्म्स एक्ट के तहत सजा काटने के बाद फरवरी माह में जेल से वापस आए संजय दत्त का करियर जिस हिसाब से उन्होंने योजना बनायी थी, उस हिसाब से शुरू नहीं हो पाया. इसमें कई लेाग उनकी किस्मत को दोष दे रहे हैं. यहां तक कि सिद्धार्थ आनंद, संजय दत्त के साथ फिल्म ‘‘बदला’’ बनाने की जो योजना बनायी थी, वह बंद कर दी गयी. जबकि संजय दत्त ने इस फिल्म के लिए ट्रेनिंग भी ली थी. पर अंततः सिद्धार्थ आनंद यह फिल्म शुरू नही कर पाए और अब सिद्धार्थ आनंद ने हृतिक रोशन के साथ दूसरी फिल्म पर काम करना शुरू कर दिया है. इस घटनाक्रम के बाद संजय दत्त की समझ में नही आ रहा था कि क्या किया जाए.

सूत्रों की माने तो अपने जन्मदिन के बाद संजय दत्त ने नई कवायद शुरू कर दी है. सूत्रों की माने तो अब संजय दत्त ने एक अन्य पीआर की मदद लेकर यह खेल ‘शुरू किया है. अब मीडिया में खबर फैलायी जा रही है कि फिल्म ‘‘बदला’’ का बजट ज्यादा था, इसलिए बंद हो गयी. पर इससे संजय दत्त की ईमेज सुधरने की बजाय बिगड़ रही है. जिस पीआर ने इस तरह की खबर फैलाने की सलाह दी, उसने गलत राह ही पकड़ायी है. क्योंकि यदि यह मान लें कि फिल्म का बजट ज्यादा होने के कारण बंद की गयी, तो इसके मायने यही हैं कि अब संजय दत्त इतने लोकप्रिय नहीं रहे कि उनकी फिल्में बाक्स आफिस पर धन बटोर सके. यानी कि निर्माताओं का उन पर विश्वास नहीं रहा. बौलीवुड का एक तबका मानता है कि संजय दत्त को नए सिरे से दर्शकों के बीच अपनी पैठ बनाने और निर्माताओं का विश्वास हासिल करने की जरुरत है, जिस पर वह जितनी जल्दी ध्यान देंगे, उतना बेहतर होगा.