जब किसी कलाकार की पहली फिल्म अंतरराष्ट्रीय जगत में तालियों की गड़गड़ाहट और सुर्खियां बटोरती है, तो यह उस कलाकार के लिए खुशी के साथ साथ जश्न मनाने का अवसर होता है. मगर मशहूर मॉडल और टीवी कलाकार रूपाली सूरी की मुंबई और लंदन में फिल्मायी गयी पहली अंग्रेजी भाषा की फिल्म ‘‘डैड… होल्ड माई हैंड’’ को हाल ही में स्वीडन में आयोजित अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह में जबरदस्त शोहरत मिली. दर्शकों ने फिल्म का प्रदर्शन खत्म होने पर खड़े होकर रूपाली सूरी के अभिनय की तारीफ करते हुए तालियां बजाकर अभिनंदन किया.

मगर रूपाली सूरी ने इसका जश्न नहीं मनाया. ‘‘वेट ग्रास फिल्मस’’ और ‘‘बैड गर्ल फिल्मसश्यूके;; क्षरा निर्मित ओर अरूण फ्रेंक निर्देशित फिल्म ‘‘डैड ..होल्ड माई हैंड’’ में रूपाली सूरी के साथ रत्ना पाठक शाह, डेंजिल स्मिथ और जयेश कोडवानी ने अभिनय किया है. हाल ही में इस फिल्म का प्रदर्शन स्वीडन के स्टॉकहोम में भारतीय दूतावास द्वारा आयोजित फिल्म समारोह में किया गया, जहां दर्शकों की मांग पर कई शो किए गए. लोगो ने फिल्म मे मुख्य भूमिका निभाने वाली अदाकारा रूपाली सूरी के अभिनय की जमकर तारीफ की. मगर रूपाली सूरी ने इसका जश्न नहीं मनाया, तो लोगों को बड़ा आश्चर्य हुआ.

बहुत से लोगों के कुरेदे जाने पर दुःखी मन से रूपाली सूरी ने कहा- ‘‘आज जिस फिल्म की वजह से लोग मेरी तारीफों के पुल बांध रहे हैं, उस फिल्म के लेखक व निर्देशक अरूण फ्रैंक अब इस दुनिया में नही हैं. 17 मार्च 2016 को मुंबई में उनका देहांत हो चुका है. ऐसे में मैं जश्न कैसे मना सकती हूं. यह उनके लिए बहुत खास फिल्म थी. काश आज वह इस फिल्म को दर्शकों की तरफ से मिल रही प्रशंसा को देखने के लिए इस संसार में होते.’’ नब्बे के दशक में अरूण फ्रैंक ने तमाम सफलतम टीवी सीरियलों का निर्देशन किया था. उन्हे कई बालीवुड सितारों से पहली बार छोटे परदे पर अभिनय करवाने का श्रेय जाता है.