सरिता विशेष

मशहूर टीवी व फिल्म कलाकार रोहित राय पहली बार बड़े परदे पर खलनायक के किरदार में नजर आने वाले हैं. जी हां! वह रितिक रोशन के साथ संजय गुप्ता के निर्देशन में एक फिल्म ‘‘काबिल’’ में अभिनय कर रहे हैं, जिसमें रितिक रोशन हीरो और रोहित राय विलेन हैं. पिछले बीस साल के दौरान छोटे परदे के अलावा बड़े परदे पर भी अभिनय करते आ रहे रोहित राय कुछ फिल्मों का निर्माण व निर्देशन भी कर चुके हैं. वह कई रियलिटी शो का संचालन कर चुके हैं. उन्होंने टीवी, फिल्म व थिएटर पर हर तरह के किरदार निभाए हैं. मगर वह हमेशा निगेटिव किरदार निभाने से खुद को बचाते रहे हैं. पर अब वह निगेटिव किरदार निभा रहे हैं. आखिर रोहित राय में यह बदलाव कैसे आया?

इस पर रोहित राय कहते हैं-‘‘कलाकार के अंदर हमेशा कुछ नया करने की प्यास बनी रहती है. लंबे समय से मैं कुछ अलग सा काम करने की सोच रहा था. ऐसे ही वक्त में मेरे सामने इस किरदार का आफर आ गया. पहले तो मैं इस किरदार को स्वीकार करने से हिचकिचा रहा था. क्योंकि मुझे सदैव यह लगता रहा है कि मैं  परदे पर निगेटिव किरदार को सही ढंग से नहीं निभा सकता. दूसरी बात इस किरदार के चरित्र चित्रण में काफी विविधता भी है. इसलिए एक बार तो मैंने मना ही कर दिया था. पर जब दूसरी बार मेरे पास इसका आफर आया, तो मैने इसे स्वीकार कर लिया और अब इस किरदार के साथ न्याय कर सकूं, इसके लिए अपनी तरफ से तैयारियां कर रहा हूं.

दूसरी बात बीस साल बाद मुझे एक बहुत  बड़ा मौका है, जब मैं अपने भाई रोनित राय के साथ भी परदे पर नजर आ सकूंगा. रोनित राय मेरे भाई होने के अलावा बौलीवुड के बहुत ही ज्यादा बेहतरीन और अतिसम्मानित कलाकार हैं. उन्होंने कई बार निगेटिव किरदारों में ऐसी उर्जा डाली है कि मैं खुद उन्हे परदे पर देखकर अचंभित होता रहा हूं.’’

वैसे रोहित राय और फिल्म ‘‘काबिल’’ के निर्देशक संजय गुप्ता के बीच बहुत पुराना संबंध है. संजय गुप्ता ने अपनी फिल्म ‘‘दस कहानियां’’ की एक कहानी ‘राइस प्लेट’ को निर्देशित करने का अवसर रोहित राय को दिया था. इस पर रोहित राय कहते हैं- ‘जी हां! संजय गुप्ता के निर्देशन में फिल्म करने का अर्थ मेरी घर वापसी है. संजय गुप्ता के साथ काम करने का आनंद ही कुछ और होता है.’’