सरिता विशेष

बॉलीवुड में राकेश ओम प्रकाश मेहरा की प्रेम कहानी प्रधान फिल्म ‘मिर्जिया’ से दो नवोदित कलाकार सैयामी खेर व हर्षवर्धन कपूर अभिनय जगत में कदम रख रहे हैं.

इस फिल्म के कुछ किसिंग सीन काफी चर्चा में हैं. कहा जा रहा है कि इन दोनों नवोदित कलाकारों ने सिनेमा के परदे पर बिना किसी झिझक के शानदार किसिंग सीन दिए हैं. इन दोनो कलाकारों ने जितनी शिद्दत से अति संजीदा प्रेम या चुंबन दृष्यों को अंजाम दिया है, उससे यही आभास होता है कि दोनों काफी मंजे हुए कलाकार हैं. अन्यथा एक दूसरे से अनजान दो नए कलाकारों से पहली फिल्म में इस तरह के दृष्यों की उम्मीद कम ही की जाती है.

बॉलीवुड में जितनी चर्चा फिल्म के किसिंग सीन की हो रही है, उतनी ही चर्चा इन दोनों कलाकारों के बीच की केमिस्ट्री और इनके बीच के रिश्ते को लेकर भी हो रही है.

बॉलीवुड के कुछ लोग इसे फिल्म के निर्देशक राकेश ओम प्रकाश मेहरा द्वारा इन दोनों कलाकारों को अठारह माह तक दिलायी गयी गहन ट्रेनिंग  का असर बता रहे हैं. तो कुछ लोग तरह तरह की बातें कर रहे हैं.

जबकि हर्षवर्धन के साथ अपनी इस बेहतरीन केमिस्ट्री के लिए सैयामी खेर स्पोर्ट्स में रूचि को बताती हैं. वह कहती हैं, ‘‘हर्षवर्धन के साथ ट्यूनिंग बनाने में समस्या नहीं आयी. मुझे स्पोर्ट्स में काफी दिलचस्पी है और हर्षवर्धन को भी. तो दिल्ली में जब हम छह माह के लिए एक साथ ट्रेनिंग ले रहे थे, तब हम लोग एक साथ टीवी पर क्रिकेट मैच देखा करते थे. इसलिए हमारे बीच बहुत जल्दी दोस्ती हो गयी थी. फिर हमने पूरे दो साल एक साथ बिताए हैं, तो हम एक दूसरे को ज्यादा बेहतर समझ पाए. हमारे बीच बॉन्डिंग बढ़ गयी.’’

तो वहीं हर्षवर्धन कपूर का दावा है कि वह और सैयामी अगली फिल्म में इससे भी बेहतर केमिस्ट्री के साथ काम कर सकेंगे. वह कहते हैं, ‘‘मेरी व सैयामी की परवरिश में बहुत बड़ा अंतर है. मेरी तरह वह अभिनय को नही अपनाती. वह जो अहसास करती है, उसे ही परफॉर्म करती है. वह बहुत ही ज्यादा स्पॉनटेनियस कलाकार है. जबकि मैं हर सीन पर बहुत सोचता हूं.”

उन्होंने कहा, “देखिए, जून 2013 में हम और सयामी खेर मिले थे. तीन साल हो गए, तो अब जाकर हमें लग रहा है कि हम दोनों अच्छे दोस्त बन गए. पहले एक डेढ़ साल तो हम दोनों के बीच ना के बराबर बातचीत हुई. वह ट्रेनिंग का दौर था. हमारी जिम्मेदारी इतनी थी कि एक दूसरे को समझने व बात करने का समय ही नहीं होता था. अब हम काफी करीब आ गए हैं. अब जब हम दूसरी फिल्में करेंगे, तो वहां ज्यादा फायदा होगा क्योंकि अब हम सहज हो चुके हैं.’’