सरिता विशेष

हंसल मेहता निर्देशित फिल्म ‘‘सिमरन’’ का विवाद ठंडा होने का नाम नहीं ले रहा है. फिल्म के निर्देशक हंसल मेहता ने जब से कंगना रानौट को ‘एडीशनल स्क्रिप्ट एंड डायलाग राइटर’ की क्रेडिट दी है, तब से फिल्म ‘सिमरन’ के एडीटर व लेखक अपूर्वा असरानी लगातार हंसल मेहता पर आरोपों की बौछार लगाए हुए हैं. अपूर्वा असरानी ने हंसल मेहता को कायर व बिना रीढ़ वाला इंसान कह दिया है. मगर पूरी फिल्म इंडस्ट्री चुप है. जो लोग हंसल मेहता के संग काम कर चुके हैं, वह भी मूक दर्शक बने हुए हैं.

मगर हंसल मेहता की हर फिल्म में अभिनय करने वाले अभिनेता राज कुमार राव ने हंसल मेहता का पक्ष लेते हुए अपनी जुबान खोली है. राज कुमार राव ने कहा है,‘‘अपूर्वा का आहत होना ठीक है. मगर हंसल मेहता कायर या बिना रीढ़ की हड्डी वाले कमजोर इंसान नहीं है…..’’ वाह क्या बात है..बालीवुड में लोग राज कुमार राव की इस स्वामी भक्ति के कायल हो गए हैं..बालीवुड से जुड़े कुछ लोगों की राय में राज कुमार राव के लिए हंसल मेहता की तारीफ में बोलना मजबूरी है. उन्हे कुछ अच्छी फिल्में करने का अवसर हंसल मेहता ने ही दिया है.

मगर राज कुमार राव यह भूल जाते हैं कि बिना अच्छी पटकथा के कोई फिल्म अच्छी नहीं बन सकती. इसलिए लेखक को नजरंदाज नहीं किया जा सकता. इतना ही नहीं राज कुमार राव यह भी भूल गए कि जिन फिल्मों में राज कुमार राव ने कंगना रानौट के साथ काम किया, उन फिल्मों की सारी क्रेडिट कंगना रानौट ही खा गयी, उन्हे सफल फिल्म का श्रेय तक नहीं मिला.

बहरहाल, विद्या बालन ने कंगना रानौट की अतिमहत्वाकांक्षा पर अपरोक्ष रूप से तंज कसते हुए एक तस्वीर सोशल मीडिया पर डाली है.