क्या आप ये बात जानते हैं कि ‘पोर्न स्टार’ से बॉलीवुड में अपनी जगह बना चुकी हॉट और ग्लैमरस अभिनेत्री सनी लिओन अब वेजिटेरियन हो चुकी हैं. पिछले साल के अक्टूबर महीने से, वे पूरी तरह शाकाहारी बन चुकी हैं और अब ‘पीपल फॉर एथिकल ट्रीटमेंट ऑफ एनिमल्स’, यानि ‘पेटा’ के साथ जुड़ चुकी हैं.

'विश्व पर्यावरण दिवस' पर यानि कि 5 जून को उन्होंने एक पोस्टर ‘स्पाइस अप योर लाइफ गो वेजिटेरियन’ का अनावरण किया और कहा कि मुझे कोई समस्या नहीं है कि मैंने नॉनवेज छोड़ दिया है, मैं पंजाबी परिवार से हूं और मैंने बचपन से ही कई प्रकार के शाकाहारी व्यंजन खाए हैं. मैं जब एनिमल स्लॉटर देखती हूँ तो बहुत दुःख होता है. स्लॉटर हाउस से प्लेट तक पहुँचने में उनकी पीड़ा को मैंने महसूस किया है. उन्हें भी जीने का हक है, हम उन्हें मारकर पृथ्वी के पर्यावरण बैलेंस को बिगाड़ रहे है.

इतना ही नहीं कई बार मैंने सोशल मीडिया पर एक वीडियो में देखा है कि कैसे लोग जानवरों को यातना देते है और इसे देखकर वे खुश होते है. मुझे बड़ा ताज्जुब होता है कि आखिर वे ऐसा कैसे करते है? ऐसे लोग ही आगे चलकर कठोर अपराधी बन जाते है. मैं सोच नहीं सकती कि कैसे कोई मनुष्य ऐसा बन सकता है. इसलिए मैंने ये संकल्प लिया है.

सनी के हिसाब से शाकाहारी व्यंजन से व्यक्ति अधिक खुश और तनाव मुक्त रह सकता है. वह कहती है कि मैंने देखा है कि शाकाहारी बनने से मेरी लाइफस्टाइल और स्वास्थ्य दोनों अच्छे हो गए है. मैं पहले से अधिक उर्जावान महसूस करती हूं. ये सही है कि मांसाहारी व्यक्ति का शाकाहारी बनना मुश्किल होता है, लेकिन भारत में कई तरह की सब्जियां पायी जाती हैं. ऐसे में मुझे नॉनवेज छोड़ने में कोई मुश्किल नहीं हुई और ये बहुत ही आसान था. अब तो मुझे अमेरिका जाने पर अधिक समस्या आती है. वहा भी मैं इंडियन फूड खोजती हूं.

ये सही नहीं कि शाकाहारी होने से आप में विटामिन और मिनरल्स की कमी होती है. मैं अपनी डाइट में सोयाबीन्स और टोफू अधिक लेती हूं, ताकि मेरे शरीर में प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट की मात्रा में कोई कमी न हो. अपने वजन को सही रखने के लिए में अधिक क्रीम और वसायुक्त खाना नहीं खाना चाहती. शाकाहारी व्यंजन मेरे लिए सबसे बेस्ट आप्शन होता है और मैं गर्मियों के मौसम में अधिक तरल पदार्थ का सेवन करती हूं.

सनी लियॉन अपनी प्रतिज्ञा पर अटल हैं और इस अवसर पर सभी से कहना चाहती है कि आप शाकाहारी बने और जीवों को जीने दे. हम आप को बता दें कि सनी इससे पहले भी स्ट्रीट डॉग्स और कैट्स को सहारा देने के लिए एक कैम्पेन में शामिल हुयी थी, जिसमें उन्होंने ये अनुरोध किया था कि डॉग्स और कैट्स को ‘स्टरलाईज’ करवा दें, ताकि बर्थ पर कंट्रोल किया जा सके और उन्हें कई बिमारियों से भी बचाया जा सकें.