इन दिनों मध्य प्रदेश बड़ी तेजी से जल पर्यटन के क्षेत्र में विकास करा रहा है. मध्य प्रदेश पर्यटन निगम ने खंडवा से 45 किलोमीटर दूर नर्मदा नदी के तट पर इंदिरा सागर बांध के पास बसे हनुवंतिया टापू को अंतरराष्ट्रीय स्तर के ‘जल पर्यटन’ स्थल के रूप में विकसित किया है. इसे विश्व के मानचित्र में स्थापित करने के लिए मध्य प्रदेश सरकार निरंतर प्रयासरत है. इसी प्रयास के तहत हनुवंतिया टापू पर 15 दिसंबर 2016 से 15 जनवरी 2017 के बीच ‘द्वितीय जल महोत्सव’ का आयोजन हो रहा है. यह जल महोत्सव इस कदर लोकप्रिय हो गया है कि एक फिल्मकार मुकेश आर चौकसे ने इस जल महोत्सव में अपनी फिल्म की शूटिंग करने की इच्छा जाहिर की है. यानी कि बहुत जल्द मध्य प्रदेश का हनुवंतिया टापू और यह जल महोत्सव सिनेमा के परदे पर भी नजर आएगा.

2011 में मध्य प्रदेश के निमाड़ क्षेत्र में ‘‘टंट्या मामा’’ के नाम से मशहूर स्वतंत्रता सेनानी पर ‘‘टंट्या भील’’ नामक फिल्म का निर्माण व निर्देशन कर चुके मुकेश आर चौकसे  मध्य प्रदेश के हनुवंतिया टापू के जल महोत्सव से इस कदर उत्साहित हुए हैं कि अब वह इस पर फिल्म बनाना चाहते हैं. सूत्रों के अनुसार मुकेश आर चौकसे इंदिरा सागर बांध के अथाह जल सौंदर्य से लेकर यहां के टापू और जंगलों में घूमने वाले जीवों पर आधारित फिल्म बनाना चाहते हैं. सूत्रों का दावा है कि मुकेश आर चौकसे ने ‘जल महोत्सव’ के आयोजन से जुड़ी ईवेंट कंपनी ‘‘ओम इंवेंट’’ कंपनी के साथ साथ मध्य प्रदेश निगम से शूटिंग करने की इजाजत मांगी है. क्योंकि वह अपनी फिल्म का फिल्मांकन जल महोत्सव के समय ही करना चाहते हैं.

मुकेष आर चौकसे कहते हैं-‘‘मैं अपनी फिल्म की तैयारी फरवरी माह से ही करता आया हूं. अब इसे हम फिल्माना चाहते हैं.’’