सरिता विशेष

नेपाली फिल्मकार अनील न्यूपाने और भारतीय फिल्मकार शिरीष कुंडेर के बीच फिल्म की चोरी का मसला क्या रंग लाएगा, यह अभी कहना बड़ा मुश्किल है. 22 जून को शिरीष कुंडेर ने मनोज बाजपेयी व राधिका आप्टे के अभिनय से सजी अपनी लघु फिल्म ‘‘कृति’’ को यूट्यूब पर लोड किया था. 24 जून को नेपाली फिल्मकार अनील न्यूपाने ने शिरीष कुंडेर के नाम ट्विटर व फेसबुक पर खुला पत्र लिखकर आरोप लगाया कि शिरीष ने उनकी फिल्म ‘‘बीओबी’’ की चोरी की है, जो कि उन्होंने अपने मित्रों के लिए फरवरी माह में ‘वीमियो’ पर डाली थी.

शिरीष कुंडेर ने ट्विटर पर इन आरोपों को सिरे से खारिज किया. पर ट्विटर व फेसबुक पर शिरीष के खिलाफ बहुत से लोग बयान लेकर आ गए. तब सोमवार, 27 जून को शिरीष कुंडेर ने नेपाली फिल्मकार अनील न्यूपाने को कानूनी नोटिस भेजी. यह कानूनी नोटिस अनील न्यूपाने को मिली या नही, पता नहीं. शिरीष कुंडेर ने अपने इस नोटिस में लिखा है-‘‘आपकी बात मान ले कि दोनों फिल्में एक समान है तो हो सकता है कि आपने हमारी फिल्म की चोरी की हो. क्योंकि हमारी फिल्म की पटकथा कई लोगों के पास थी.

मंगलवार, 28 जून देर रात ‘‘यूट्यूब’’ ने शिरीष कुंडेर की फिल्म ‘‘कृति’’ को हटा दिया. उस जगह पर ‘यूट्यूब’ने लिखा है-‘‘दिस वीडियो इज नो लांगर अवेलेबल ड्यू टू ए कापीराइट क्लेम बाय अनील न्यूपाने.’’ यानी कि अनील न्यूपाने द्वारा कापीराइट का आरोप लगाए जाने पर यह वीडियो हटाया गया.

कापीराइट के मसले पर जब ‘यूट्यूब’ किसी फिल्म को हटा देता है, तो इसके मायने होते हैं कि ‘यूट्यूब’ ने उसे दोषी मान लिया है. इतना ही नही अब ‘यूट्यूब’ से फिल्म ‘कृति’ के लिए शिरीष को एक पैसा नहीं मिलेगा. इस तरह देखा जाए तो शिरीष कुंडेर शुरुआती लड़ाई हार चुके हैं. अब देखना है कि शिरीष कुंडेर का अगला कदम क्या होगा.