19 फरवरी को प्रदर्शित फिल्म ‘‘नीरजा’’ में बेहतरीन परफार्मेंस देने के बावजूद सोनम कपूर के पास एक भी फिल्म नहीं है. यह एक दुखद बात ही है कि एक सफल चर्चित फिल्म ‘नीरजा’ में अभिनय करने के बावजूद सोनम कपूर को किसी फिल्मकार ने अपनी फिल्म का आफर नहीं दिया. आखिरकार सोनम कपूर की बहन रिया कपूर ने फिल्म ‘‘वीरे दी वेडिंग’’ बनाने की घोषणा की, जिसमें सोनम कपूर के साथ करीना कपूर व स्वरा भास्कर भी हैं. अब यदि यह बात छपने लगे कि करीना कपूर ने ‘वीरे दी वेडिंग’ छोड़ दी है, तो सोनम को गुस्सा आना स्वाभाविक है.

इस फिल्म पर सवालिया निशान खड़े होने से सोनम के करियर पर भी असर पड़ना स्वाभाविक है. ऐसे में सोनम का सामने आकर सफाई देना जरुरी बनता है. यही वजह है कि इस तरह की खबरों के छपने के बाद सोनम कपूर ने मुंबई में ‘आई एम सी महिला विभाग’ के एक कार्यक्रम में पितृसत्तात्मक समाज पर हमला बोलते हुए कहा कि, ‘‘जो भी खबरें छप रही हैं. वह गलत है. करीना कपूर ने फिल्म ‘वीरे दी वेडिंग’ नहीं छोड़ी है. वह मां बनने के बाद अप्रैल 2017 में हमारी फिल्म की शूटिंग करेंगी.’’

पर सोनम कपूर ने मीडिया को कोसने से पहले यह नहीं सोचा कि करीना कपूर ने मीडिया से जो कुछ कहा, उसी वजह से मीडिया में यह चर्चा शुरू हुई. इसी समारोह में सोनम कपूर ने आगे कहा-‘‘हमारा पितृसत्तात्मक समाज है. हम अभिनेत्रियां, स्पोर्टस वूमन ही नहीं मीडिया में काम करने वाली औरतों को भी अजीब तरह की रूकावटों का सामना करना पड़ता है. लोग हमारा आकलन हम किस तरह से दिखाई देते हैं और हम गर्भवती हैं या नहीं, के आधार पर करते हैं. हमें मुद्दों के आधार पर आंका जाता है. हमें सक्षम या सशक्त औरत के रूप में नहीं देखा जाता. यह माना जाता है कि औरतें बहुत से काम नही कर सकती. यह अन्याय है. पर मैं आशावादी इंसान हूं. मुझे लगता है कि चीजे बेहतर हो जाएंगी. देखिए, अभी ओलंपिक में पी वी सिंधू ने जो कमाल किया है, उसे पूरी दुनिया नमन कर रही है. हम महिलाओं की मदद करते हैं, तो हमारा समाज बेहतर हो सकता है.’’

एक गैर फिल्मी मंच से अपनी फिल्म ‘‘वीरे दी वेडिंग’’ को लेकर सोनम ने जो कुछ कहा, यदि उसे सच माना जाए, तो यह तय है कि यदि इस फिल्म में करीना कपूर बनी रहती हैं, तो यह फिल्म अप्रैल 2017 के पहले शुरू नहीं होगी. तो दूसरी तरफ बौलीवुड से जुड़े तमाम लोग रिया कपूर व सोनम कपूर के बयान से सहमत नजर नही आ रहे हैं.