आम तौर पर फिल्म कलाकार अपनी ईमेज को बरकरार रखने के लिए कई तरह के अनर्गल बयान देते रहते हैं. उनके इस बयान का विरोध कोई नही करता. यहां तक कि कलाकारों, खासकर स्टार पुत्रों के माता पिता भी मूक बनकर अपने बेटे के बयान का समर्थन करते रहते हैं. लेकिन अभिनेता व फिल्मकार फरहान अख्तर के पिता जावेद अख्तर ने एक सही पिता की तरह फरहान अख्तर के बयान को गलत बताते हुए खुलेआम फरहान अख्तर पर बहुत बड़ा तमाचा जड़ा है.

वास्तव में नोटबंदी के ऐलान के तीन दिन बाद फरहान अख्तर की बतौर निर्माता व अभिनेता फिल्म ‘‘रॉक ऑन 2’’ प्रदर्शित हुई थी. इस फिल्म ने दो सप्ताह में महज 10 करोड़ रूपए ही बाक्स आफिस पर कमाए. फिल्म ने पहले दिन दो करोड़ कमाए थे. अपनी फिल्म की बाक्स आफिस पर इस दुर्गति के लिए फरहान अख्तर ने मीडिया से कहा था कि नोटबंदी के कारण उनकी फिल्म ‘‘रॉक ऑन 2’’ को दर्शक नहीं मिले. यहां तक कि फरहान अख्तर के दोस्त और फिल्म ‘रॉक ऑन 2’ के अभिनेता अर्जुन रामपाल ने भी फरहान की ही हां में हां मिलाते हुए कहा था कि,‘‘नोटबंदी अच्छा कदम है. पर इसके लिए किसी को तो कुर्बानी देनी ही थी. यह कुर्बानी ‘रॉक ऑन 2’ ने दी.’’

लेकिन अब फरहान अख्तर के पिता और फिल्म ‘‘रॉक ऑन 2’’ के गीतकार जावेद अख्तर ने एक ईवेंट में इस पर खुलकर बात की और कहा-‘‘यह कहना पूरी तरह से गलत है कि नोटबंदी के चलते ‘रॉक ऑन 2’ ने बहुत कमाई नहीं की. यदि यह कहा जा रहा है कि नोटबंदी के चलते सिर्फ एक फिल्म ‘रॉक ऑन 2’ ने ही कमाई नहीं की, तो यह बहुत बड़ा बेवकूफी वाला बयान है.’’

जावेद अख्तर के इस बयान से 17 नवंबर को ‘‘सरिता’’ में छपी खबर की पुष्टि होती है. हमने 17 नवंबर को ‘‘सरिता’’ पत्रिका में यहीं पर ‘‘क्या फरहान अख्तर ने डुबायी ‘रॉक ऑन 2’ शीर्षक के अंतर्गत लिखा था कि किस तरह फरहान अख्तर ने ‘रॉक ऑन 2’ को डुबाया. हमने इसमें बताया था कि जावेद अख्तर ने पहले ही फरहान से कह दिया था कि ‘रॉक ऑन 2’ नहीं चलेगी. जावेद अख्तर ने फरहान को इस फिल्म को आधी से ज्यादा पुनः फिल्माने की सलाह दी थी, पर फरहान अख्तर ने अपने पिता की सलाह ठुकरा दी थी.