सरिता विशेष

लेखक चेतन भगत की बुक ‘वन इंडियन गर्ल’ के विमोचन के अवसर पर अभिनेत्री कंगना रनौत ने बताया कि इस बुक को पढ़कर उन्हें अपने जीवन की कई बाते याद आई. एक जगह तो पढ़ते हुए उनकी आंखों में आंसू तक आ गए. उन्हें कई बार यह ‘फेस’ करना पड़ा कि वह एक लड़की हैं और उन्हें पूरी आजादी नहीं है. यह बुक ‘फेमिनिज्म’ को दर्शाती है और इसे एक लड़की के नजरिये से लिखा गया है.

अपने और ऋतिक रोशन को लेकर कंट्रोवर्सी के बारे में उनका कहना है कि मुझे उन पिता से ख़ास नाराज़गी है जो अपने बेटे को पीछे रख, खुद कुछ न कुछ कहने के लिए आगे आते हैं. उन्हें कब तक छुपाओगे, कब तक उन्हें शरण दिया जायेगा. जो कुछ कहना है वह व्यक्ति सामने आकर कहे, मैं उसका उत्तर देने के लिए तैयार हूं.