सरिता विशेष

सीरियल ‘‘रामायण’’ में राम का किरदार निभाकर चर्चा में आए गुरमीत चौधरी बाद में ‘‘गीत’’ और ‘‘पुनर्विवाह’’ जैसे सीरियलों में भी अभिनय करते हुए नजर आए थे. पर इन दिनों वह विशाल पंड्या निर्देशित  ईरोटिक फिल्म ‘‘वजह तुम हो’’ को लेकर चर्चा में हैं. वैसे उनके करियर की पहली फिल्म ‘‘खामोशियां’’ भी ईरोटिक फिल्म ही थी.

गुरमीत चैधरी और उनकी पत्नी दोनो ही अभिनय से जुड़े हुए हैं, इसके बावजूद निजी जिंदगी में उनके बीच आम इंसानों की ही तरह झगड़े व तू तू मैं मैं होती रहती है. एक मुलाकात में इस बात को स्वीकार करते हुए खुद गुरमीत चौधरी ने कहा-‘‘टीवी या फिल्म में जो कहानी आती हैं, उनमें सच्चाई होती है. मैं कलाकार हूं. मेरी पत्नी भी कलाकार हैं. इसके मायने यह नहीं हैं कि हमारे बीच झगडे़ नहीं होते. पानी के लिए भी हमारे बीच झगड़े होते हैं. कई बार मैंने चिल्लाकर पानी का गिलास भी फेंका है. पर लोगों की नजर में कलाकार भगवान की तरह होता है. जब मैं कलाकार नहीं बना था, तो मेरे लिए अमिताभ बच्चन भगवान थे. वैसे मैं आज भी उनका बहुत बड़ा फैन हूं. हम कलाकारों की निजी जिंदगी में भी वही सब होता है, जो आम इंसान की जिंदगी में होता है.

हमारी जिंदगी की कोई घटना मीडिया में आती है,तो उसका बहुत बड़ा हौव्वा बन जाता है. ‘पुनर्विवाह’ में बहुत सारी घटनाएं थी. मुझे लगता है कि ज्यादातर घटनाएं मेरे जीवन में घटित हो चुकी हैं. सीरियल में मेरी पत्नी आरती जब नाराज होती, तो मैं गाना गाकर मनाता था. निजी जिंदगी में भी मुझे अपनी पत्नी देबलीना को मनाने के लिए यह सब करना पड़ता है. किसी ने मुझसे पूछा कि आप देबलीना के साथ कब फिल्म कर रहे हो? तो मैंने उससे कहा कि उनके साथ तो मैं हर रोज फिल्म करता हूं. फिल्म में जो नाच गाना वगैरह होता है, वह मेरे घर में हर रोज होता है.’’