पिछले पचास दशकों से अभिनय करते आ रहे असरानी हास्य व ह्यूमरस किरदारों के पर्याय सा बने हुए हैं. मगर पचास साल बाद पहली बार वह निर्देशक सुजाद इकबाल खान की फिल्म ‘‘मुरारी:द मैड जेंटलमैन’’ में एक अति भावुक किरदार में नजर आने वाले हैं. असरानी का दावा है कि इस फिल्म में वह खुद रोए हैं और फिल्म देखते हुए दर्शक भी रोएंगे. इससे अधिक वह इस फिल्म को लेकर बात नहीं करना चाहते.

Tags: