वैश्वीकरण के चलते बौलीवुड की फिल्में धीरे धीरे पूरे विश्व में अपनी धाक बनाती जा रही हैं. तो दूसरी तरफ हौलीवुड की फिल्में भारत में हिंदी, तमिल, तेलगू व मलयालम भाषाओं में डब होकर रिलीज हो रही हैं. यानी कि हालीवुड फिल्मों के लिए भारतीय दर्शक बहुत बड़ा बाजार बनता जा रहा है. इतना ही नहीं अब हौलीवुड के फिल्मकारों को भारतीय सभ्यता व संस्कृति मोहने लगी है. जिसके चलते कई हौलीवुड निर्देशक भारतीय पृष्ठभूमि की कहानी गढ़कर अपने हौलीवुड कलाकारों के संग भारत में अपनी फिल्म की शूटिंग करने के लिए विवष हो रहे हैं. ऐसे ही फिल्मकारों में से एक हैं बेन रेखी. बेन रेखी लंबे समय से अपनी फिल्म ‘‘आश्रम’’ को भारत में फिल्माना चाह रहे थे, पर जब उन्हे भारतीय फिल्मकार गुनीत मोंगा का साथ मिला, तो उनका यह सपना पूरा हो रहा है. बेन रेखी इन दिनों अमेरिकन कलाकारों के संग मनाली में अपनी अंग्रेजी भाषा की अंतरराष्ट्रीय फिल्म ‘‘आश्रम’’ की शूटिंग कर रहे हैं. इस फिल्म में कल पेन, मेलिसा लियो, हेरा हिलमर जैसे अमरीकन कलाकारों के साथ भारतीय अदाकारा राधिका आप्टे भी अभिनय कर रही हैं. यह अंग्रेजी भाषा की स्प्रिच्युल फैंटसी थ्रिलर फिल्म है. फिल्म की कहानी हिमालय में बसे योगियों के इर्द गिर्द घूमती है.

फिल्म ‘‘आश्रम’’ के सह निर्माता गुनीत मोंगा इस फिल्म के साथ जुड़ने की चर्चा चलने पर कहते हैं-‘‘विश्व के दर्शकों को भारतीय परिवेष की कहानियां सुनाना हमेशा उत्साहवर्धक होता है. अंग्रेजी भाषा के सिनेमा में यह मेरा पहला कदम है. जिसमें अमरीकन कलाकार व निर्देशक बेन रेखी के साथ भारतीय अदाकारा राधिका आप्टे भी काम कर रही हैं.’’

अमरीकन अभिनेता कल पेन ने ट्वीट करके कहा है-‘‘अंततः गुनीत मोंगा के सहयोग से हमारी फिल्म ‘आश्रम’ का निर्माण शुरू हुआ. हमने मनाली में शूटिंग करनी शुरू कर दी है और 15 अप्रैल को राधिका आप्टे भी इस फिल्म की शूटिंग करने के लिए मनाली पहुंच जाएंगी.’’

फिल्म ‘‘आश्रम’’ की कहानी भारत में हिमालय पर बसे एक आश्रम के इर्द गिर्द घूमती है, जहां एक नास्तिक अमरीकन जेमी एक गुप्त संदेश पाकर पहुंचा है. वह अपनी गायब प्रेमिका की तलाश में है. अपनी इस यात्रा के दौरान वह किन बातों का अहसास करता है, यही कहानी है.