सीरियल किसर के रूप मे मशहूर अभिनेता इमरान हाशमी इन दिनों मशहूर क्रिकेटर मो. अजहरुद्दीन के जीवन पर बनी नाटकीय फिल्म‘‘अजहर’’को लेकर उत्साहित हैं. इस फिल्म में इमरान हाशमी ने मो.अजहरुद्दीन का किरदार निभाया है,जिन पर क्रिकेट मैच फिक्सिंग का आरोप भी लगा था. यह एक अलग बात है कि बाद में अदालत ने बाइज्जत बरी कर दिया था. पर इमरान हाशमी की नजर में यह फिल्म एक प्रेरणादायक कहानी व फिल्म है. ख्ुाद इमरान हाशमी कहते हैं-‘‘मेरी राय में फिल्म‘अजहर’एक प्रेरणादायक कहानी है. इस फिल्म को देखते हुए दर्शक कई प्रेरणा ले सकता हैं.

लोग सोचेंगे कि मैच फिक्सिंग में तो अजहर भाई ने पैसे लिए थे,पर उससे पहले क्रिकेट खिलाड़ी के रूप में उनका बीस साल का करियर रहा है. बीस साल की जिंदगी रही है. वह भारतीय क्रिकेट टीम के कैप्टन रहे हैं. उन्होंने टीम को कई बार जिताया है. उन्होंने जिस तरह का बेहतरीन क्रिकेट खेला,उसे आप भुला नहीं सकते. पर मैच फिक्सिंग वाला मुद्दा उनकी जिंदगी का काला दाग वाला हिस्सा है. उन्होंने पूरे 12 साल तक कोर्ट केस लड़ा. मेरी नजर से यह भी एक प्रेरणादायक कहानी है. हो सकता है कि कुछ लोग यह भी कहें कि अदालत ने भले उन्हें बरी कर दिया हो,पर हमें लगता है कि अजहर भाई ने पैसे लेकर मैच फिक्सिंग की थी. महज एक गलती की वजह से किसी भी इंसान की सारी अच्छाईयों पर परदा नहीं डाला जा सकता. हम सभी को अदालत के निर्णय को स्वीकार करना चाहिए.’’