बॉलीवुड में अनिल कपूर का करियर घिसट घिसट कर ही आगे बढ़ रहा है. बॉलीवुड के अपने करियर को गति देने के लिए उन्हें अब बार बार हॉलीवुड व अमरीकन फिल्म या टीवी सीरीज का सहारा लेना पड़ रहा है. यह एक कटु सत्य है. भले ही अनिल कपूर इस सच को कबूल करने की बजाय पत्रकारों पर आरोप लगाएं कि पत्रकार उन पर निजी हमला करते हैं.

हॉलीवुड फिल्म ‘स्लमडॉग मिलेनियर’ ने अनिल कपूर के करियर को उस वक्त जीवनदान दिया था, जब उनका करियर समाप्त सा हो गया था. उसके बाद अनिल कपूर ने अमरीकन टीवी सीरीज ‘24’ में अभिनय किया, जिससे उन्हें अच्छी खासी शोहरत मिली.

इस शोहरत को भुनाने के लिए अनिल कपूर ने अमरीकन टीवी सीरीज ‘24’ के अधिकार खरीदकर उसका भारतीयकरण कर ‘स्टार प्लस’ के लिए सीरियल ‘24’ का निर्माण करने के साथ उसमें अभिनय किया. यह सीरियल किसी तरह से मामुली सफलता बटोर पाया था. इसके बाद अनिल कपूर गत वर्ष ‘दिल धड़कने दो’ और ‘वेलकम बैक’ जैसी असफल फिल्मों में नजर आए. तब अनिल कपूर ने बड़े उत्साह के साथ टीवी सीरियल ‘24’ का दूसरा सीजन बनाया, जिसमें एक बार फिर उन्होंने अभिनय किया. यह सीरियल फिलहाल ‘स्टार प्लस’ पर ही प्रसारित हो रहा है, मगर बुरी तरह से असफल है. इसे टीआरपी नहीं मिल रही है. ज्ञातब्य है कि इस सीरियल के निर्देशक अभिनय देव निर्देशित फिल्म ‘फोर्स 2’ भी बॉक्स आफिस पर रो रही है.

इतना ही नहीं अनिल कपूर पिछले चार वर्ष से भी अधिक समय से अनुजा के उपन्यास ‘बैटल फॉर बिठोरा’ पर अपनी बेटी सोनम कपूर को लेकर फिल्म बनाना चाहते हैं, मगर अब तक इस फिल्म की कोई प्रगति नहीं हुई. तो वहीं उनकी बेटी रिया कपूर ने ‘वीरे दी शादी’ फिल्म के निर्माण की घोषणा की है, इसमें सेानम कपूर, करीना कपूर व स्वरा भास्कर हैं, मगर यह फिल्म भी अधर में लटकी हुई है. ऐसे में एक बार फिर अनिल कपूर को विदेशी सीरीज का ही सहारा नजर आ रहा है.

जी हां. अब अनिल कपूर एक अमरीकन वैज्ञानिक वेब सीरीज ‘एमाजॉन ग्लोबल ओरीजनल’ में रोचक किरदार निभाने जा रहे हैं. यह सीरीज माइकल फेबर की किताब ‘द बुक ऑफ स्ट्रेंज न्यू थिंग्स’ पर आधारित होगी, जिसे केविन मैकडॉनाल्ड निर्देशित कर रहे हैं. केविन इससे पहले 2006 में ‘द लास्ट किंग आफ स्कॉटलेंड’ निर्देशित कर जबरदस्त शोहरत बटोर चुके हैं. इसमें एक पादरी की कहानी है, जो दूसरे ग्रह पर नई कॉलोनी की तलाश में जाता है. वहां नए परीक्षणों पर उसका भरोसा बढ़ने के साथ ही नए जीवन की तलाश भी पूरी होती है. अनिल कपूर इस वेब सीरीज के पायलट एपीसोड के लिए दक्षिण अफ्रीका जाकर शूटिंग कर चुके हैं. इसमें अनिल कपूर विक्रम दानिश के किरदार में नजर आएंगें.

इस वेब सीरीज की चर्चा करते हुए अनिल कपूर कहते हैं, ‘‘मैं हमेशा खुद को इस स्थिति में रखना पसंद करता हूं, जिसमें असफल होने की गुंजाइश ज्यादा हो. अंग्रेजी भाषा के सीरियल या फिल्मों में अभिनय करने से हमें डर लगता है. हम इस भाषा के लोगों के साथ सीधे तारतम्य नहीं बैठा पाते हैं. भाषा की वजह से हम जिनके साथ काम कर रहे होते हैं, उनसे भी नहीं जुड़ पाते हैं. ऐसे अपरिचित माहौल में असफल होने की संभावनाएं हमेशा बढ़ जाती है. पर मुझे उसी में मजा आता है. मैं हमेशा अपना दायरा विकसित करने में यकीन करता हूं.’’

अनिल कपूर आगे कहते हैं, ‘‘मैं अपने आपको भाग्यशाली समझता हूं कि मुझे इस वेब सीरीज के साथ जुड़ने का अवसर मिला. केविन काफी बुद्धिमान हैं. उन्हें निर्देशन करते देखते हुए मैंने अपनी आंखों के सामने अजूबे कंटेंट की परते खुलते हुए देखा. यदि मैं यह न करता तो बहुत बड़ा अवसर खो देता.’’

इस वेब सीरीज में अभिनय कर अनिल कपूर पहले बॉलीवुड कलाकार बन गए हैं, जो कि अंतरराष्ट्रीय वेब सीरीज में कदम रख रहे हों.