सरिता विशेष

उद्योगपति कुमार मंगलम बिड़ला की बेटी अनन्या बिड़ला अपनी सत्रह वर्ष की उम्र से ही कुछ नया करने का प्रयास करती रही हैं. सत्रह वर्ष की उम्र में 17 फरवरी 2012 में ‘‘स्वतंत्र माइक्रो फायनेंस’’ की स्थापना कर सबसे कम उम्र की महिला बिजनेस ओमन बन जाने वाली अनन्या बिड़ला के कदम तब से रूके नहीं हैं. अनन्या बिड़ला की कंपनी देहातों में कार्यरत महिला उद्यमियों को आर्थिक मदद देने का काम करती है. वैसे इस कंपनी को आदित्य बिड़ला ग्रुप ही धनराशि मुहैया करता है. उसके बाद 2015 मे अनन्या बिड़ला ने लक्जरी कंपनी ‘‘कुरोक्राट डाट काम’’ की शुरुआत की, जो कि आन लाइन लाइफ स्टाइल प्रोडक्ट की कंपनी है. इसके तहत हाथ से बुने हुए कपड़े आन लाइन पूरे विश्व में बेचे जाते हैं और अब वह अपना पहला सिंगल गाना लेकर आयी हैं.

जी हां!  22 वर्ष की उम्र में अनन्या बिड़ला ने बारह नवंबर को मुंबई के एक पांच सितारा होटल में लाइव परफार्मेंस देते हुए अपने अंतरराष्ट्रीय सिंगल गाने ‘‘लिविन द लाइफ’’ को रिलीज किया. यह गाना इंटरनेट से पूरे विश्व के श्रोता डाउनलोड कर सकते हैं. इसी के साथ उन्हे संगीत कंपनी ‘’यूनिवर्सल म्यूजिक ग्रुप’’ ने अनुबंधित किया है. इस तरह अब अनन्या बिड़ला ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपने संगीत करियर की शुरुआत की है. इस सिंगल गाने के निर्माता व लेखक अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त जिम बियांज हैं. इस गाने को पेनसीलवैनिया के स्टूडियो में रिकार्ड किया गया.

इस गाने को रिलीज करने के बाद अनन्या बिड़ला ने कहा-‘‘मैने ‘लिविन द लाइफ’ को रिलीज करने के बाद अपने सपने को पूरा किया है. मुझे सदैव संगीत से प्यार रहा है. संगीत बनाने में मुझे आनंद की अनुभूति होती है. यह गाना खुद की तलाश है कि आप क्या हैं? मेरी राय में अपनी तलाश कर ही खुशियां पायी जा सकती हैं. मैं इस गाने के माध्यम से दूसरों तक प्यार फैलाना चाहती हूं.’’

अनन्या का मानना है कि वह बचपन से ही संगीत की शौकीन रही हैं. वह ए आर रहमान सहित कई अंतरराष्ट्रीय संगीतकारों व गायकों से प्रभावित हैं.