सरिता विशेष

निर्देशक अब्बास मस्तान ने 1985 में गुजराती कलाकारों नरेश कनोडिया और स्नेहलता को लेकर फिल्म ‘‘साजन तारा संभरना’’ नामक गुजराती फिल्म के निर्देशन के साथ फिल्मों में कदम रखा था और 1990 में उन्होने राज बब्बर, जीतेंद्र और माधवी को लेकर ‘अग्निकाल’ जैसी हिंदी फिल्म निर्देशित की थी, तब से वह अब तक 20 फिल्में निर्देशित करचुके हैं. उनकी ज्यादातर फिल्में बाक्स आफिस पर सफल भी हुई हैं.

अब्बास मस्तान ने बालीवुड के लगभग सभी बड़े कलाकारों के साथ काम किया, पर अमिताभ बच्चन को निर्देशित करने का अवसर उन्हे अब तक नहीं मिला. सूत्रों की माने तो 2012 में प्रदर्शित फिल्म ‘‘प्लेयर्स’’ में अभिषेक बच्चन को निर्देशित करने के बाद अब्बास मस्तान, अमिताभ बच्चन के साथ भी एक फिल्म करने वाले थे. लेकिन‘प्लेयर्स’ की असफलता के चलते मामला गड़बड़ा गया था. सूत्रों की माने तो गतवर्ष प्रदर्षित अब्बास मस्तान के निर्देशन में बनी फिल्म ‘‘किस किस को प्यार करूं’’ की सफलता ने अब्बास मस्तान की तकदीर के दरवाजे ऐसे खोले कि अब अमिताभ बच्चन उनके निर्देशन में एक सस्पेंस थ्रिलर फिल्म में अभिनय करने जा रहे हैं और वह भी बिना किसी पारिश्रमिक राशि के.

जी हां! बालीवुड में चर्चा है कि अब्बास मस्तान की इस फिल्म में अभिनय करने के एवज मे अमिताभ फीस नही लेंगे, लेकिन फिल्म के मुनाफें में उनकी बराबरी की हिस्सेदारी होगी. इसलिए इस फिल्म का निर्माण अमिताभ बच्चन की अपनी फिल्म निर्माण कंपनी और अब्बास मस्तान मिलकर करेंगे. इतना ही नहीं यह भी तय हुआ है कि फिल्म का सारा बजट 22 करोड़ के उपर नहीं जाएगा. चैंकाने वाली खबर तो यह है कि फिल्म का निर्माण शुरू होने से पहले ही अमिताभ बच्चन ने इस फिल्म के सेटेलाइट राइट्स किसी चैनल को 15 करोड़ रूपए में बेचने की बात भी पक्की कर ली है.

सूत्र दावा कर रहे हैं कि यह फिल्म 2017 की शुरूआत में ही रिलीज होगी. मगर इस खबर की पुष्टि कहीं से भी अब तक नहीं हो पायी है.