सरिता विशेष

लगता है इन दिनों अजय देवगन के सितारे भी गर्दिश में चल रहे हैं. अजय देवगन अपने निर्देशन मे बनी फिल्म ‘शिवाय’ को प्रचारित करने के मकसद से जो भी कदम उठाते हैं, वह उनके लिए ही गले की हड्डी बनता जा रहा है.

अजय देवगन ने सबसे पहले केआरके व मंगत पाठक के बीच हुई बातचीत का आडियो जारी किया जिसमें अंततः वही खुद ही शक के घेरे में आ गए और यह मसला गायब हो गया.

अब अजय देवगन ने फिल्म ‘शिवाय’ के गाने ‘दरखास्त..’ का वीडियो जारी किया. इस गाने में अजय देवगन फिल्म की हीरोईन इरिका के साथ चुंबन करते हुए नजर आते हैं. अजय देवगन ने मीडिया में प्रचारित कराया कि फिल्म की पटकथा की मांग के चलेत अजय देवगन ने अपना 25 साल पुराना संकल्प तोड़कर फिल्म ‘शिवाय’ में चुंबन दृष्य को अंजाम दिया है.

अजय देवगन की तरफ से प्रचारित कराया जा रहा कि उन्होंने 25 वर्ष पहले सलमान खान व कुछ दूसरे कलाकारों की तरह सिनेमा के परदे पर हीरोईन के संग चुंबन दृष्य खासकर ‘लिपलॉक किसिंग’ न करने की कसम खायी थी, जिसे उन्हें फिल्म की पटकथा की मांग को पूरा करने के लिए तोड़ना पड़ा.

इतना ही नहीं इस बात को प्रचारित करने के दो दिन के अंदर ही अजय देवगन की तरफ से यह भी प्रचारित कराया गया कि किसिंग सीन की बात सामने आने से उनकी पत्नी काजोल काफी नाराज हैं.

अब इस तरह के प्रचार से ‘शिवाय’ को कितना फायदा व कितना नुकसान होगा, यह तो फिल्म के प्रदर्शन के बाद ही पता चलेगा. लेकिन बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन ने अजय देवगन के इस झूठ की पोल खोल दी है.

अमिताभ बच्चन ने एक अंग्रेजी पत्रिका से कहा है कि अजय देवगन ने प्रकाश झा निर्देशित फिल्म ‘सत्याग्राह’ में भी किंसिंग सीन किया था. इतना ही नहीं इस अंग्रेजी पत्रिका ने अमिताभ बच्चन के इस बयान को ट्विटर पर भी डाल दिया है. अब बेचारे अजय देवगन बगलें झांक रहे हैं. इसका कोई जवाब उन्हें देते नहीं बन रहा हैं.

उधर बॉलीवुड में अजय देवगन को लेकर एक बार फिर कई चर्चाएं गर्म हो गयी हैं. तमाम लोगों की राय में अजय देवगन को इस तरह की गलत बयानबाजी कर अपनी फिल्म को प्रोमोट करने की गंदी हरकत से बचना चाहिए. तो वहीं बॉलीवुड के एक तबके की राय में अजय देवगन को आगे से सावधानी बरतते हुए प्रचार के हथकंडे अपनाने चाहिए.

मगर बॉलीवुड का दूसरा तबका बॉलीवुड की कार्यप्रणाली के मद्दे नजर अजय देवगन को शक का लाभ देते हुए निर्दोश बताते हुए सलाह दे रहा है कि अजय देवगन ने अपने जिस दोस्त या जिस सलाहकार या जिस फिल्म प्रचारक के कहने पर इस तरह का प्रचार का हथकंडा अपनाया,उनसे अजय देवगन को भविष्य में दूरी बनाकर रखनी चाहिए.

पर हमें अजय देवगन के अगले कदम का इंतजार है क्योंकि एक बहुत पुरानी कहावत है ‘‘विनाशकाले विपरीत बुद्धि’’.