सरिता विशेष

कल तक दावा किया जा रहा था कि टीनू सुरेश देसाई निर्देशित व अक्षय कुमार, ईलियाना डिक्रूजा और ईशा गुप्ता के अभिनय से सजी फिल्म ‘‘रूस्तम’’ पचास के दशक के नेवी आफिसर के एम नानावटी की कहानी पर बनी फिल्म है. मगर अचानक फिल्म के सारे लोग इस बात से इंकार करने लगे हैं. वास्तव में इस फिल्म में इस बात पर जोर दिया गया है कि एक औरत अपने पति के साथ बेवफाई करने के बावजूद किस तरह अपनी शादी को बचा सकती है. सूत्र बताते हैं कि इसके चलते के एम नानावटी की जिंदगी में जो कुछ हुआ, उसका अंत इसमें बदला गया है.

जी हां! अब फिल्म ‘‘रूस्तम’’ में रूस्तम पारवी का किरदार निभा रहे अभिनेता अक्षय कुमार ने ‘‘सरिता’’ पत्रिका से कहा-‘‘हमारी फिल्म ‘रूस्तम’ किसी भी सूरत में नेवी आफिसर के एम नानावटी की बायोपिक फिल्म नही है. यह फिल्म उस काल में घटित पांच छह वास्तविक घटनाक्रमों पर आधारित है. यह फिल्म बेवफाई व विवाहेत्तर संबंधों पर आधारित है.’’

जबकि फिल्म ‘‘रूस्तम’’ में रूस्तम की पत्नी सिंथिया पारवी का किरदार निभाने वाली अदाकारा ईलियना डिक्रूजा ने ‘कहा-‘‘यह चर्चाएं गलत हो रही है कि यह फिल्म नानावटी की सत्य कथा पर आधारित है. फिल्म की कहानी उस वक्त की स्थितियों और नानावटी के जीवन में घटी कुछ घटनाओं से प्रेरित हैं. यदि दर्शक नानावटी की कहानी को ध्यान में रखकर फिल्म देखने जाएगा, तो उसे फिल्म कुछ अलग ही नजर आएगी. यह फिल्म पूरी तरह से रोमांटिक थ्रिलर है. इसमें खूबसूरत प्रेम कहानी भी है. रोमांटिक कहानी रूस्तम पारवी और सिंथिया पारवी के बीच में है. मुझे सिर्फ इतना पता था कि फिल्म के निर्माता नीरज पांडे हैं. पर वह इसका निर्देशन नहीं कर रहे हैं. इसका निर्देशन टीनू सुरेश देसाई कर रहे हैं. इस फिल्म में मुख्य भूमिका अक्षय कुमार निभा रहे हैं.’’

इतना ही नहीं ईषा गुप्ता ने कहा-‘‘मैं तो आज पहली बार सुन रही हूं कि यह किसी नेवी आफिसर की कहानी है. मेरी जानकारी के अनुसार ऐसा नहीं है. यह कई सत्य घटनाक्रमों का सिनेमाकरण है.’’

यानी कि हर कोई इस बात से इंकार कर रहा है कि फिल्म ‘‘रूस्तम’’ पचास के दशक में सजा पाने वाले नेवी आफिसर के एम नानावटी की कहानी है. पर इसका सच 12 अगस्त को फिल्म ‘‘रूस्तम’’ के सिनेमाघर मेंरिलीज होते ही सामने आ जाएगा.