भाजपा सांसद विनय कटियार का बयान भाजपा में प्रियंका से भी सुंदर स्मृति ईरानी हैबताता है कि विधानसभा चुनाव प्रचार में प्रियंका के सक्रिय होने से भाजपा को परेशानी होने वाली है. उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सचिव शैलेन्द्र किशोर पांडेय मधुकरकहते हैं, प्रियंका जी को राजनीति में लाने की मांग कांग्रेसी कार्यकर्ता लंबे समय से करते आ रहे हैं. अभी तक वह सुल्तानपुर और रायबरेली में प्रचार तक सीमित रही हैं. अब वह प्रदेश के दूसरे क्षेत्रों में प्रचार करेगी तो कार्यकर्ता नये उत्साह के साथ पार्टी के साथ जुडेगा. कांग्रेस के कार्यकर्ता प्रियंका में इंदिरा गांधी की छवि को देखते हैं. प्रियंका के भाषण की शैली बहुत बेबाक है. इससे कांग्रेस को लाभ होगा.

उत्तर प्रदेश में 7 करोड़ के करीब महिला मतदाता हैं. महिलाओं के मतदान का प्रतिशत दिनों दिन बढ़ता जा रहा है. 2012 के विधानसभा चुनावों में 60 फीसदी महिलाओं ने मतदान किया था कांग्रेस और सपा के गठजोड़ से चुनाव लडने से प्रियंका के साथ डिपंल यादव के चुनाव प्रचार का भी महत्व बढ़ गया है. डिपंल यादव उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पत्नी हैं. 2012 और 2014 में वह लगतार 2 बार सासंद चुनी जा चुकी हैं. सपा के युवा भी चाहते हैं की डिंपल यादव चुनाव प्रचार करें. सपा ने अपने स्टार प्रचारको के नामों में डिंपल का नाम शामिल किया है. ऐसे में इस विधानसभा चुनावों में डिपंल और प्रियंका की जोड़ी चुनाव प्रचार को नई धार देगी.

बाल आयोग की अध्यक्ष और सपा की प्रवक्ता जूही सिंह कहती हैं, युवाओं में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और डिपंल जी का बहुत क्रेज है. डिपंल जी ने महिलाओं और बच्चों को लेकर कई योजनाओं की शुरूआत में अहम रोल अदा किया. प्रदेश की महिलाओं का रूझान उनकी ओर है. ऐसे में विधानसभा चुनावों में उनके प्रचार का लाभ जरूर होगा.

कांग्रेस और सपा के अलावा दूसरी पार्टियों में महिला प्रचारको के नामों में बसपा से मायावती, सपा से जया बच्चन, कांग्रेस से शीला दीक्षित, भाजपा से स्मृति ईरानी, हेमा मालिनी, रीता बहुगुणा जोशी का ही नाम है. बसपा में मायावती ही सबसे प्रमुख है.

भाजपा की महिला नेताओं में जमीनी स्तर की नेताओं का अभाव है. स्मृति ईरानी और हेमा मालिनी का महत्व स्टार होने के नाते है. विधानसभा चुनावों में वह बहुत प्रभावी नहीं होंगी. रीता बहुगुणा जोशी पर दलबदल का आरोप है. ऐसे में उनकी छवि बेहतर नहीं है. जनता की नजर में प्रियंका-डिंपल की जोड़ी चुनाव में सबसे अच्छी साबित होगी.