सरिता विशेष

भारतीय जनता पार्टी की तिरंगा यात्रा देश भर मे अपने देश प्रेम की वजह से कम बल्कि तिरंगे के अपमान के चलते ज्यादा चर्चाओं में बनी हुई है. एक मंत्री ने मोटर साइकल पर बिना हेलमेट पहने तिरंगा यात्रा मे शिरकत की, इस पर बवाल अभी थमा नहीं था कि मध्यप्रदेश के छतरपुर जिले की बिजावर तहसील मे तिरंगा यात्रा के दौरान एक भाजपा नेता पवन जैन का देश प्रेम पेट के दबाव के आगे छू हो गया और वे तिरंगा हाथ मे पकड़े ही सड़क किनारे पेट हल्का करने खड़े हो गये.

इन नेता जी को राजनीति का अभी इतना तजुर्बा नहीं है कि इसमे खतरा विरोधियों से कम अपने वालों से ही ज्यादा रहता है. इनके साथियों ने यह प्राकृतिक क्रिया न केवल केमरे मे कैद की बल्कि उसे सोशल मीडिया पर वायरल भी कर दिया. अब कांग्रेसी हल्ला मचा रहे हैं कि हाथ मे तिरंगा लेकर सरेआम पेशाब करने वाले इस नेता के खिलाफ कार्रवाई की जाये.

मामला दिलचस्प होने के साथ साथ गम्भीर भी है, जिसे लेकर अब ये नेता जी दिक्कत मे पड़ गये हैं कि क्या करें. बेहतर होता अगर भाजपा इस यात्रा की योजना बनाते वक्त अपने नेताओं और कार्यकर्ताओं को ट्रेनिंग देती कि वे कम खाकर और कम पीकर इसमे शामिल हों और इस पर भी बर्दाश्त न हो तो हाजत पर जाने के पहले झंडा किसी साथी को पकड़ा जायें.