सरिता विशेष

पार्टी में जाने के लिए मेघना तैयार हो चुकी थी. मेकअप, पार्टी डै्रस, हाई हील की सैंडल, केशसज्जा सभी कुछ अपनी जगह फिट था, लेकिन फिर भी एक कमी थी जो आईने में खल रही थी. क्या रह गया है? सोचसोच कर वह परेशान थी. यह देख उस की सहेली ऋचा ने टोका, हैंडबैग कहां है मैडमजी?

हां, फैशन के दौर में बैग को इग्नोर करना नामुमकिन है, क्योंकि यह आप की पर्सनैलिटी को उभारता है. जितना ध्यान एक युवती अपनी पोशाक पर देती है उतना ही अपने बैग पर भी देती है ताकि उस की चमक में कोई कमी न रह जाए.

जहां बैग हमारे फैशन का हिस्सा है वहीं वह हमारी कई जरूरतें भी पूरी करता है. कई बार मजाक में कहा जाता है कि एक युवती अपने बैग में पूरा जहान ले कर चलती है, आप ने फिल्मों में भी ऐसे मजाकिया सीन देखे होंगे जहां हीरोइन का पर्स खाली करते समय उस में से दुनियाभर का सामान निकलता है.

खास बात यह है कि युवतियों की अलगअलग जरूरतों के लिए बने हैं ये डिजाइनर्स पर्स, ताकि स्टाइल के साथ उन का काम भी आसान हो जाए. जब औफिस जाना हो तो बड़ा बैग और किसी पार्टी में जाना हो तो चमकीला छोटा पर्स.

आइए, जानते हैं अलगअलग प्रकार के बैग्स के बारे में और साथ ही यह भी जानेंगे कि किस तरह के बैग आप की पर्सनैलिटी में चारचांद लगाते हैं.

स्लिंग बैग

हलकेफुलके लंबी बैल्ट वाले स्लिंग बैग आकर्षक लगते हैं. युवतियों की यह खास पसंद हैं. सस्तेसुंदर और टिकाऊ स्लिंग बैग 300 से ले कर 1,300 रुपए तक मिल जाते हैं.

ऐक्सपर्ट्स मानते हैं कि इस तरह के बैग्स लेने वाली युवतियां प्रैक्टिकल अप्रोच वाली होती हैं. वे एकसाथ बहुत सारी बातों को ले कर ऐक्साइटेड रहती हैं. यही नहीं, उन के शौक और हौबीज की लिस्ट भी बहुत लंबी रहती है.

टोटबैग

ये बड़े साइज के बैग होते हैं. इन के हैंडल भी बड़े होते हैं ताकि इन्हें आसानी से कंधे पर लटकाया जा सके. इन में जगह की कोई कमी नहीं होती. जितना चाहे सामान रखें. ये सूती कपड़े, चमड़े, जूट आदि से बने होते हैं. 125 से ले कर 2,000 रुपए तक में उपलब्ध हो जाते हैं.

द सेशल

ये बैग मुलायम फ्रेम के होते हैं जो स्टाइलिश लगते हैं. इन में अधिक सामान रखा जा सकता है जिस से आप को काफी आसानी होती है. जैसे मेकअप की जरूरी चीजें, मोबाइल आदि. ये 500 से 3,000 रुपए तक मिल जाते हैं. यानी इस में आप को सस्ते से ले कर महंगे दोनों तरह की वैराइटी आसानी से मिल जाएंगी.

होबो

शौपिंग पर जाने के लिए होबो काफी अच्छे हैं. इन में अधिक जगह होने से सामान रखने में दिक्कत नहीं होती. होबो को जब ले कर चलें तब आप का पहनावा कैजुअल हो. होबो की कीमत 300 से ले कर 3,000 रुपए तक हो सकती है.

जिन युवतियों को होबो भाता है वे आर्ट लवर होती हैं. इन के दिमाग में नित नए आइडिया आते हैं. साथ ही ये परफैक्शन को पसंद करने वाली भी होती हैं.

सरिता विशेष

क्लच

यदि आप क्लासी फैशन परस्त हैं तो क्लच एक स्टाइलिश पसंद होगी. क्लच आप के परिधान में चारचांद लगा देता है. इस में आप अपनी रोजमर्रा की छोटीमोटी चीजों को रख सकती हैं. यह दिखने में बहुत ही कूल सा लुक देता है. क्लच का अच्छाखासा कलैक्शन 200 से ले कर 2,000 रुपए तक में मिलता है.

हाल ही में कुछ नए फैशनेबल बैग बाजार में आए हैं, जैसे क्विल्टेड बैग जो रजाई जैसे बुने दिखते हैं, स्टडेड बैग जिन में मेटल के बीड्स जड़े होते हैं और फ्रिंजेस बैग्स आदि.

नौकरीपेशा युवतियां अपने लिए स्टाइलिश लैपटौप बैग्स भी ले सकती हैं, हालांकि इन की कीमत थोड़ी अधिक होती है, 6,500 से ले कर 10,000 रुपए तक.

स्वास्थ्य पर असर

बैग का वजन आप के वजन के 10 फीसदी से अधिक नहीं होना चाहिए. यदि आप बैकपैक लेती हैं तो उसे दोनों कंधों पर लटकाना आप के हित में है और यदि आप उसे एक कंधे पर लटकाना पसंद करती हैं तो उस की लंबाई कमर तक होनी चाहिए. वरना कंघों पर भार पड़ने से आप के लिए प्रौब्लम खड़ी हो सकती है.

बैग को शरीर के एक तरफ लटकाने से कंधे, कमर और यहां तक कि सिर में भी दर्द की समस्या हो सकती है. डा. एरिक्सन बताती हैं कि कंधे की मांसपेशियों पर जोर पड़ने से सिरदर्द की शिकायत हो सकती है.

इसी तरह, पतले स्ट्रैप वाले बैग, खास कर मैटल स्ट्रैप वाले, कंधे के दर्द को और बढ़ा सकते हैं. इसीलिए चौड़ी बैल्ट वाले बैग लें, जिन में वजन बराबरी से बंट जाता है. इन बातों को ध्यान में रख कर अगर आप बैग खरीदेंगी तो आप के स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव नहीं पड़ेगा.