सरिता विशेष

घर को सजानेसंवारने की हम पूरी कोशिश करते हैं और घर से आ रही भीनीभीनी खुशबू यह एहसास दिलाती है कि घर वाले पूरी तरह से मूड में आ चुके हैं.

तो इस बार आप इन में से कौन सी फ्रैगरैंस चुन रही हैं:

Video Feature : फोर्ड के साथ लीजिए कुंभलगढ़ यात्रा का मजा

कैंडल वार्मर्स: कैंडल वार्मर से मोम पूरी तरह गरम हो जाता है और उस से बहुत ही भीनीभीनी खुशबू निकलती है, जिस से पूरा घर महक उठता है. मोमबत्ती को जलाए बिना ही पूरा घर सुगंधमय हो जाता है.

घर पर बनाएं पौटपूरी: घर पर पौटपूरी बनाने के लिए किसी भी मनपसंद फूल की पंखुडि़यों को थोड़े पानी में उबाल लें. ऐसा करने पर उन की महक पूरे घर में फैल जाएगी. फूलों के अलावा संतरे के छिलके, दालचीनी के टुकड़े, लौंग आदि के प्रयोग से भी घर को एक अलग ही खुशबू से महकाया जा सकता है.

रीड डिफ्यूजर: यह खुशबू कमरे की हवा में कुछ इस तरह घुलमिल जाती है कि कई घंटों के बाद भी घर खुशबू से महकता रहता है. इसे बारबार जलाने की जरूरत नहीं होती है. खुशबू कम हो जाने पर भी भीनी सी हलकी सुगंध वातावरण में रहती है. इस में सिंथैटिक व नैचुरल दोनों तरह के औयल का इस्तेमाल किया जाता है. रीड डिफ्यूजर में आप को बोतल या कंटेनर, सैंटेड औयल व रीड्स मिलती हैं. बोतल या कंटेनर में औयल भर दिया जाता है. फिर उस में एक रीड स्टिक डाल दी जाती है. पूरा घर महक उठता है.

अरोमा कैंडल: यदि आप को खुशबू पसंद है और चाहती हैं कि आप का कमरा हर वक्त महकता रहे तो अरोमा कैंडल्स का इस्तेमाल करें. लेकिन सस्ती और कैमिकल वाली अरोमा कैंडल्स से दूर रहें. इन के बजाय सोया वैक्स या बीज वैक्स से बनी अरोमा कैंडल्स खरीदें. ये ज्यादा देर तक जलती हैं. ये कैंडल्स कई फ्रैगरैंस में उपलब्ध हैं. एक स्टिक करीब 6 घंटे चलती है.

एअर फ्रैशनर्स: ये स्प्रे की छोटीछोटी बोतलें होती हैं, जिन्हें आप कहीं भी लगा सकती हैं जैसे कि दीवार पर, ड्रैसिंग टेबल के किनारे, टेबल की साइड आदि में आसानी से लगा सकती हैं. इस में एक बटन लगा होता है जिसे औन कर के आप जब चाहें खुशबू पा सकती हैं.lifestyle

नैचुरल औयल से फैलाएं खुशबू: अपनी पसंद के किसी भी सैंटेड तेल में आधा कप सिरका और 2 कप पानी मिला कर स्प्रे बोतल में भर लें. फिर इस का प्रयोग कर घर को खुशबूदार बना सकती हैं.

अरोमा लैंप: यह एक प्रकार का डिजाइनर लैंप होता है, जिस में पानी की कुछ बूंदों में अरोमा औयल डाला जाता है, जिस से घर में काफी देर तक खुशबू रहती है. यह एक शो पीस की तरह खूबसूरत दिखती है.

हर्बल अगरबत्ती: सुबहसुबह घर में अगरबत्ती की खुशबू सभी को भाती है. माहौल को खुशनुमा बनाने में ऐरोमैटिक प्लांट या हर्ब्स से बनी अगरबत्तियों का जवाब नहीं. इन्हें ऐसैंशियल औयल की मदद से ज्यादा खुशबूदार बनाया जा सकता है. साधारण नुकसानदायक धुआं छोड़ने वाली अगरत्तियों के मुकाबले ये काफी अच्छी होती हैं. नैचुरल फ्रैगरैंस की बात की जाए तो जैसमीन, चंदन, गुलाब, देवदार आदि खुशबू वाली अनेक अगरबत्तियां बाजार में उपलब्ध हैं.

यों भी महकाएं घर

घर के लिए फ्रैगरैंस लैवेंडर, लैमन, क्लोव आदि लेना सही रहता है. इन से दुर्गंध आसानी से चली जाती है.

सुगंधयुक्त अगरबत्तियों, पौटपूरी, स्प्रे आदि का प्रयोग कमरे में ही करें, किचन में इन का प्रयोग न करें.

घर में केतली में कुछ मसालों जैसे लौंग, इलायची या दालचीनी को उबालें. इस से पूरे घर में मसालों की अच्छी महक भर जाएगी.

ऐसैंशियल औयल को 1 कप पानी में मिला कर स्प्रे बोतल में भर एअर फ्रैशनर के तौर पर इस्तेमाल करें.

मूड के अनुसार चुनें होम फ्रैगरैंसlifestyle

सिट्रस: रिफ्रैश मूड के लिए सीट्रस फ्रैगरैंस चुनें. फू्रट फ्रैगरैंस ऊर्जा बढ़ाने के साथसाथ तरोताजगी का भी एहसास दिलाती है.

लैवेंडर और कुकंबर: रिलैक्सेशन के लिए लैवेंडर और कुकुंबर की खुशबू काफी अच्छी होती है. लैवेंडर की खुशबू तनाव दूर कर तनमन को शांत करती है. लैवेंडर में औयल, स्प्रे और कई तरह की कैंडल्स भी बाजार में उपलब्ध हैं.

फ्लोरल: यह खुशबू मूड को रोमांटिक बनाती है. इस का चुनाव खासतौर पर बैडरूम के लिए किया जाता है. त्योहारों के मौके पर भी इस की खुशबू पूरे वातावरण को महका देती है.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं