सरिता विशेष

बहुत कम लोग जानते होंगे कि अंडे के खोल से सजावट की जाती है. अंडे में एक छोटा सा छेद कर के उस में भरा सारा तरल पदार्थ निकाल लिया जाता है. फिर अंडे के इस खाली खोल को अच्छी तरह साबुन मिले पानी के घोल से धोने के बाद व्हिस्की से स्टरलाइज कर धूप में सुखा लिया जाता है.

थोड़ी सतर्कता बरती जाती है कि अंडे का खोल फूट न जाए. फिर उस पर पैंसिल या ब्रश से तरहतरह के रंग किए जाते हैं, चेहरे के आकार उकेरे जाते हैं. रुई से इन की दाढ़ीमूंछें बनाई जाती हैं, चोटियां बना कर हैट पहनाए जाते हैं. फिर मनमुताबिक डिजाइन पर स्पार्कल लगा कर इन्हें ईस्टर के मौके पर सजावटी टोकरियों में रखा जाता है. क्रिसमस के मौके पर इन्हें क्रिसमस ट्री पर सजाया जाता है. अंडे का खोल इस तरह से फेंकने से पहले भी अपनी कीमत अदा कर जाता है.

इडिना स्टेनले बागबानी की शौकीन हैं. उन का मानना है कि पौधों के लिए अंडे के छिलके बढि़या जैविक खाद का काम करते हैं. अंडे के छिलके यदि ओवन में सुखा लिए जाएं और अच्छी तरह इन सूखे छिलकों को चूरा कर लें या इन का पाउडर बना कर मुरगियों के खाने के दाने में मिला दिया जाए तो यह मुरगियों के लिए काफी पौष्टिक आहार साबित होगा. कैल्शियमयुक्त अंडे के छिलकों को यदि मुरगियों को खाने के लिए दिया जाए तो मुरगियों के अंडों की जरदी अच्छी व ज्यादा पौष्टिक होगी क्योंकि इस में प्रोटीन की मात्रा ज्यादा होगी. जिन मुरगियों को ऐसा भोजन दिया जाता है उन के अंडे ग्राहकों की पहली पसंद होते हैं क्योंकि उन में प्रोटीन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है.

अंडे के छिलकों का प्रयोग अच्छी खेती के लिए खाद के रूप में या मुरगी के दाने के लिए तो किया ही जाता है, बरतन साफ करने के लिए भी इन्हें एक बढि़या स्क्रबर के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है. बरतनों में धूल चिपक गई हो, चिकनाई हो तो इन्हें अच्छी तरह क्रश कर लें और मसलने के बाद बरतन धो कर साबुन के घोल में मिला लें. फिर इन छिलकों से बरतन रगड़ें और फिर देखें, कैसे चकाचक साफ होते हैं आप के बरतन.

यदि सिंक का पाइप बंद हो गया है तो परेशान होने की जरूरत नहीं है. बस, अंडे के छिलकों को अच्छी तरह क्रश कर सिंक की नाली में छोड़ दें. ऊपर से नल चलाएं. आप देखेंगे धीरेधीरे सारा पाइप इन छिलकों की सहायता से साफ हो जाएगा. इसी प्रकार ये छिलके पक्षियों के बरतनों को भी बखूबी साफ कर देते हैं.

अंडे के छिलकों में कैल्शियम की बहुतायत होती है. छिलकों को अच्छी तरह पीस कर पक्षियों के दानों में मिलाने से यह काफी पौष्टिक भोजन बन जाता है.

बागबानी में भी करें इस्तेमाल : यदि आप ने टमाटर, बैगन या शिमलामिर्च के पौधे लगाए हैं, पर पौधे बढ़ नहीं पा रहे हैं तो इस का मतलब है कि पौधों में खुराकी तत्त्वों की कमी है. इन्हें कैल्शियम, नाइट्रोजन और फासफोरस की जरूरत है. कैल्शियम की कमी अंडे के छिलकों के इस्तेमाल से दूर की जा सकती है. इस के सेवन से जमीन की उर्वरशक्ति को बल मिलता है. इसलिए जब भी टमाटर, बैगन या शिमलामिर्च की पौध लगाएं, खासतौर पर गमलों में, तो सब से पहले निचली एक तह, अंडों के मसले हुए छिलकों की डालें, दूसरी परत मिट्टी की. फिर नतीजा देखिए आप की बगिया में पौष्टिक सब्जियां उगने लगेंगी.

कपड़ों के दागधब्बे दूर करें : अंडे के छिलकों से कपड़ों के दागधब्बे भी छुड़ाए जा सकते हैं. बस, इन छिलकों को अच्छी तरह पीस लें. इस पाउडर को दागधब्बे वाले कपड़े पर बुरक दें. उस पर गरम पानी डालें. थोड़ी देर में दाग हलके हो कर छूट जाएंगे.

बागबानी में कीटनाशक का काम : यदि आप के बगीचे में फसल को नुकसान पहुंचाने वाले कीट हैं, तो अंडे के मसले हुए छिलके बहुत मददगार हो सकते हैं. दरअसल, इन कीटों का नीचे का भाग मुलायम और समतल होता है, जब ये मसले गए छिलकों पर चलने की कोशिश करते हैं तो शरीर कट जाता है, ये मरने लगते हैं और पौधों के करीब नहीं आ पाते.

खाद में उपयुक्त : खाद की उर्वरता को और भी पौष्टिक बनाने में सक्षम पाए गए हैं अंडों के छिलके. यदि कंपोस्ट खाद घर पर तैयार कर रहे हैं तो उस मिश्रण में अंडे के छिलके मिला दीजिए, वह खाद पौधों के लिए और भी पौष्टिक हो जाएगी.

VIDEO : आप भी बना सकती हैं अपने होठों को ज्यूसी

ऐसे ही वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक कर SUBSCRIBE करें गृहशोभा का YouTube चैनल.