बौलीवुड से पाकिस्तानी अभिनेत्रियों व अभिनेताओं का जुड़ना आम बात है. अब तक कई पाकिस्तानी कलाकार बौलीवुड में अपनी किस्मत आजमा चुके हैं. पर वह दोनों देशों में खास लोकप्रियता नहीं बटोर सके. हां! 1980 में पाकिस्तानी अभिनेत्री जेबा बख्तियार ने जरुर दोनो देशों में शोहरत पाने का एक रिकार्ड बनाया था. अब जेबा बख्तियार की बराबरी करने के साथ ही उनके रिकार्ड को तोड़कर बौलीवुड में नया इतिहास रचने का काम कर रही हैं पाकिस्तानी अभिनेत्री मावरा होकाने.

मावरा होकाने पहली पाकिस्तानी अदाकारा हैं, जो कि महज 22 साल की उम्र में 14 पाकिस्तानी सीरियलों, वह भी दो साल के अंदर तीन इंटरनेशनल सीरियलों में अभिनय कर जबरदस्त शोहरत बटोरने के  बाद बौलीवुड में भी सुर्खियां बटोर रही हैं. मावरा होकाने इन दिनों पांच फरवरी को प्रदर्शित होने वाली विनय सप्रू और राधिका राव निर्देर्शित तथा इरोज इंटरनेशनल निर्मित फिल्म ‘‘सनम तेरी कसम’’ में हर्षवर्धन राणे के साथ एक संजीदा किरदार निभाने की वजह से चर्चा में हैं.

आखिर मावरा होकाने को इतनी कम उम्र में इतनी शोहरत कैसे मिल रही है? इस बारे में खुद मावरा कहती हैं-‘‘मुझे लगता है कि हर इंसान की अपनी जिंदगी को लेकर अपनी एक अलग अप्रोच होती है. मुझे लगता है कि मेरी सकारात्मक सोच मुझे फायदा देती है. यदि मैं यह सोचने लगूं कि लोग मेरी आलोचना करेंगे, मुझे उनका प्यार नहीं मिलेगा, तो शायद एक सप्ताह में मुझे प्यार मिलना बंद हो जाएगा. मुझे लगता है कि आप जिस तरह से सोचते हैं, उसी तरह से फल आप पाते हैं. मैंने बचपन से प्यार ही मांगा. मैने 22 साल की उम्र में जितना प्यार कमाया है, वह इसलिए कमाया, क्योंकि मेरा प्यार में यकीन रहा है.मैं अपने यकीन को बदलना नहीं चाहती.

मुझसे पहले इतनी शोहरत, इतना प्यार किसी भी पाकिस्तानी अभिनेत्री को नहीं मिला. अभी से भारतीय दर्शकों के बीच जिस तरह से मुझे स्वीकार किया जा रहा है, उतनी स्वीकरोक्ति किसी भी पाकिस्तानी अभिनेत्री को नहीं मिली. मेरी यह अनकंडिशनल यात्रा रही है. मुझसे पहले पाकिस्तानी अभिनेत्री जेबा बख्तियार को भारतीयों ने प्यार दिया था. यह तीस साल पहले की बात है. उन्होने 1980 में ‘हीना’ फिल्म की थी. अब मैं चाहती हॅू कि मैं एक नया उदाहरण पेश कर सकूं. मेरे लिए यह संभव है.क्योंकि अल्लाह ने मुझे पहली ही फिल्म में मेरे निर्माता, निर्देशक लेखक व सह कलाकार के रूप में हीरे परोसकर दिए हैं. मुझे अब तक कोई समस्या नहीं हुई.’’

मगर तीस साल के दौरान किसी भी पाकिस्तानी अभिनेत्री को आप जैसी सफलता न मिलने की वजह या रही? इस बारे में मावरा ने कहा-‘‘वजह तो मैं नहीं जानती.पर मैं तो ईश्वर कि बहुत चहेती लड़की हूं. मेरी जिंदगी में हमेशा वह सब हो जाता है, जो दूसरों की जिंदगी में मैंने कभी नहीं देखा. मेरी किस्मत कमाल की है. हां मुझे जिंदगी में आगे बढ़ना और मेहनत करना अच्छा लगता है. मुझे लगता है कि मुझसे पहले जो अभिनेत्रियां आयी,उनमें जेबा बख्तियार को छोड़कर सभी काफी उम्र होने के बाद आयी. सभी अभिनेत्रियां मुझसे आठ दस साल बड़ी रही है.’’

Tags: