फिल्म ‘रौकस्टार’ से बौलीवुड में डैब्यू करने वाली अभिनेत्री नरगिस फाखरी ने बौलीवुड में अपनी एक अलग पहचान बनाई है. नम्र स्वभाव और स्पष्टभाषी नरगिस ने अपने बोल्ड अंदाज के जरीए यह दिखा दिया है कि कैमरे के आगे भी वे किसी सीन को परफौर्म करने में जरा भी नहीं घबरातीं. उन्हें बोल्ड फोटोशूट से भी कोई परहेज नहीं है

आसान नहीं थी राह

अमेरिका की नरगिस फाखरी मुंबई में अकेली रहती हैं. वे अपनी मां से मिलने कभीकभी अमेरिका जाती रहती हैं, क्योंकि वे भी वहां अकेली रहती हैं. शुरू में नरगिस की मां को यहां की फिल्म इंडस्ट्री और नरगिस के काम को समझना थोड़ा मुश्किल हुआ था पर जब नरगिस ने अपनी फिल्में मां को दिखाईं, तो उन्होंने भी नरगिस का आगे बढ़ने में सहयोग किया. मुंबई आ कर खुद को सैटल करना नरगिस के लिए आसान नहीं था. 2009 के स्विमसूट कैलेंडर से उन्हें अच्छे पैसे मिले और फिर उन्होंने यहां रहने का निश्चय कर लिया. नरगिस को कैलेंडर में देख कर ही उन्हें फिल्म रौकस्टार मिली. नरगिस फाखरी अपनी सेहत का खास ध्यान रखती हैं. अपनी खूबसूरती को बनाए रखने के लिए संतुलित आहार लेती हैं और खूब पानी पीती हैं. वे कहती हैं कि ग्लैमर वर्ल्ड में हमेशा सुंदर दिखना आवश्यक है. सुंदरता से आत्मविश्वास बढ़ता है. ऐसे में अपनी सुंदरता को बनाए रखने के लिए वे फलोंसब्जियों का खूब सेवन करती हैं.

स्किन केयर जरूरी

त्वचा को चिकना और ग्लोइंग बनाए रखने के लिए नरगिस क्लींजिंग, फेशियल, स्क्रब आदि का प्रयोग करती हैं. वे कहती हैं कि त्वचा हमेशा सुंदर दिखे इस के लिए यह ध्यान रखना चाहिए कि आप की त्वचा नमीयुक्त रहे. सूखी त्वचा में रैशेज दिखाई देते हैं. जब नरगिस दिनरात बाहर शूटिंग में व्यस्त रहती हैं, तो वालनट स्क्रब के द्वारा मेकअप को हटाती हैं. इस से मेकअप रोमछिद्रों से पूरी तरह बाहर निकल जाता है. साथ ही चेहरे का रक्तसंचार भी सुचारु रहता है. रात को सोते समय वे मौइश्चराइजर जरूर लगाती हैं. मल्टी कल्चरल बैकग्राउंड से होने की वजह से नरगिस के घर में बचपन से ही नैचुरल स्टफ अधिक प्रयोग किया जाता था. जब वे भारत आईं तो उन्हें लगा कि वे मदर नेचर के पास आ गई हैं, क्योंकि यहां हर वह चीज उपलब्ध है, जिसे खा कर या लगा कर आप अपनी त्वचा को सुंदर रख सकती हैं. इस के अलावा नरगिस नियमित वर्कआउट भी करती हैं. अमेरिका के न्यूयौर्क में वे काफी दूर तक टहल सकती थीं, पर भारत में ऐसा संभव नहीं है. इसीलिए वे घर पर ही डीवीडी लगा कर जुंबा वर्कआउट करती हैं.

नरगिस चूंकि ठंडी जगह से आई हैं, इसलिए भारत जैसे गरम स्थान पर अपनी त्वचा का खास खयाल रखना पड़ता है. वे उन्हीं उत्पादों का इस्तेमाल अपनी त्वचा के लिए करती हैं, जो उन्हें सूट करते हैं. वे धूप में अधिक नहीं जातीं. उन्हें अधिक मेकअप का भी शौक नहीं है. वे अपनी आंखों और होंठों पर अधिक ध्यान देती हैं. उन्हें हेयर कलर पसंद नहीं. नरगिस फाखरी कहती हैं कि बालों को सुंदर बनाए रखने के लिए वे सप्ताह में 1 बार बालों की मसाज करवाती हैं. इस के अलावा अधिक मीठा नहीं खातीं और गहरी नींद सोती हैं. फिलहाल नरगिस फिल्म ‘बैंजो’ में अमेरिका की एक डीजे की भूमिका निभा रही हैं. इस फिल्म के लिए उन्होंने काफी तैयारी की है. इस में रितेश देखमुख उन के कोस्टार हैं. इस फिल्म में उन्हें महाराष्ट्रियन कल्चर को करीब से जानने का मौका मिला है. जिस से वे बहुत खुश हैं.