सरिता विशेष

क्रिकेट की ऐसी फैन फॉलोइंग है कि लोग क्रिकेट के नियम से लेकर क्रिकेटरों के बारे में लगभग सब कुछ जानते हैं या जानना चाहते हैं. आप अपने पसंदीदा क्रिकेटर के बारे में लगभग सब जानते होंगे यहां तक की उनके निकनेम से भी वाकिफ होंगे. लेकिन क्या आप इस निकनेम की पीछे की कहानी जानते हैं? नहीं तो जानें खिलाड़ियों के निकनेम और उसके पीछे की कहानी.

माइकल होल्डिंग- मौत की सनसनी

वेस्टइंडीज के इस तेज गेंदबाज को चुपचाप गेंदबाजी करने के लिए जाना जाता था. माइकल को अंपायर डिकी बर्ड ने यह नाम (मौत की सनसनी) तब दिया था जब क्रीज के पास खड़े रहने के बावजूद उन्हें माइकल होल्डिंग के दौड़ के आने की भनक तक नहीं लगी थी.

स्टीव वॉ- टुग्गा

स्टीव वॉ को खेल के मैदान पर मुश्किल परिस्थितियों में भी मुस्कुराने के लिए जाना जाता था. वह ऑस्ट्रेलिया के इस धाकड़ बल्लेबाज को क्रिकेट फिल्ड पर शांत और धैर्य से मुश्किलों का सामना करने के लिए उनके साथियों द्वारा दिया गया था उपनाम.

अनिल कुंबले- जंबो

भारत के दिग्गज लेग स्पिनर अनिल कुंबले को यह नाम हरफनमौला नवजोत सिंह सिद्धू ने दिया था. कुंबले की गेंदें जिस तरह से अचानक बाउंस करती थीं, उससे अच्छे-अच्छे बल्लेबाज भी चकमा खा जाते थे.

राहुल द्रविड़ – द वॉल

राहुल द्रविड़ को टीम इंडिया की दीवार माना जाता था, क्योंकि जब भी टीम संकट में होती थी द्रविड़ एक छोर थामे रखते थे. इसी वजह से उनका नाम 'द वॉल' पड़ गया. द्रविड़ का एक दूसरा निकनेम जैमी इसलिए पड़ा क्योंकि उनके पिता जैम बनाने वाली कंपनी 'किसान' में काम करते थे.

ग्लैन मैक्ग्रा- कबूतर

ऑस्ट्रेलिया के इस तेज गेंदबाज को नीक नेम कबूतर करियर के शुरूआती दौर में ही मिल गया था जब उनकी टीम के सदस्यों ने बालिंग के दौरान उनके लंबे पतले टांगों को देखते हुए पिजन का उपनाम दिया था.

महेंद्र सिंह धोनी- कैप्टन कूल

मैदान पर हमेशा शांतचित रहने वाले टीम इंडिया के वनडे और टी-20 कैप्टन धोनी को विषम परिस्थितियों में धैर्य बनाए रखने के लिए क्रिकेट विशेषज्ञों और फैन्स ने उन्हें कैप्टन कूल कहना शुरू कर दिया, जो उनके नाम के आगे अब लगभग हमेशा ही नजर में आता है.

शाहिद आफरीदी- बूम बूम

पाकिस्तान के तुफानी ऑलराउंडर शाहिद आफरीदी गेंद की बेरहमी से धुनाई के कारण बूम-बूम कहे जाते हैं. वो जब भी क्रीज पर आते हैं तो या को खुद जल्दी पैवेलियन लौट जाते हैं या फिर अपने बल्ले से गेंद को पैवेलियन का रास्ता दिखा देते हैं. बैटिंग की अपनी आक्रामक शैली के कारण बूम-बूम खासे चर्चा में रहते हैं.

विराट कोहली- चीकू

विराट कोहली को प्यार से चीकू कहकर बुलाया जाता है. कप्तान धौनी और टीम के दूसरे खिलाड़ी भी उन्हें प्यार से चीकू ही बुलाते है. विराट कोहली का यह निकनेम दिल्ली के कोच अजीत चौधरी ने दिया था. उन्होंने विराट का यह नाम उनकी हेयर स्टाइल को देखते हुए रखा था.