महिला विश्व कप-2017 में न्यूजीलैंड के खिलाफ शतक जड़कर टीम इंडिया को सेमीफाइनल में पहुंचाने वाली कप्तान मिताली राज अपना आखिरी वर्ल्ड कप खेल रही हैं. इस बात पर खुद मिताली ने मुहर लगा दी है.

न्यूजीलैंड के खिलाफ शानदार शतक जमाने वाली मिताली राज ने एक प्रेसवार्ता में कहा, "मैं इस जीत से बहुत खुश हूं. शायद यह मेरे लिए आखिरी विश्व कप हो सकता है. इसलिए हमारा सबसे पहला लक्ष्य सेमी फाइनल में प्रवेश करना था. महिला साथी खिलाड़ियों ने शानदार खेल की मिसाल पेश की, जिसकी बदौलत हम मुकाबले को जीतने में कामयाब हो सके."

मिताली राज ने 184 वनडे मैचों की 165 पारियों में 47 बार नाबाद रहते हुए 6137 रन बनाए हैं. इस दौरान उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 114 (नाबाद) रहा. मिताली ने 52.00 की औसत से 49 अर्धशतक और 6 शतक जड़े हैं. भारतीय टीम की कप्तान मिताली राज ने लगातार 7 अर्धशतक जड़कर रिकॉर्ड कायम किया है. सबसे अधिक रन बनाने के मामले में मिताली पहले स्थान पर हैं.

आईसीसी महिला विश्व कप में 1000 रन पूरा करने वाली पांचवीं बल्लेबाज बन गई हैं. अब तक केवल पांच बल्लेबाज ही महिला विश्व कप में 1000 रन का आंकड़ा छू पाई हैं, जिसमें न्यूजीलैंड की डेबी हेकले (1501), इंग्लैंड की जेनेट ब्रिटिन (1299), चार्लोट एडवर्ड्स (1231) और ऑस्ट्रेलिया की बेलिंडा क्लार्क (1151) शामिल हैं.

बता दें कि भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने अपने हरफनमौला प्रदर्शन के दम पर न्यूजीलैंड को 186 रनों से हराकर विश्व कप के सेमीफाइनल में जगह बना ली है, जहां उसका सामना आस्ट्रेलिया से होगा. भारत ने पहले शानदार फॉर्म में चल रही कप्तान मिताली राज (109) के बेहतरीन शतक की मदद से न्यूजीलैंड के सामने 266 रनों की चुनौती रखी और फिर अपने गेंदबाजों के उम्दा खेल की बदौलत कीवी महिलाओं को 25.3 ओवरों में 79 रनों पर ढेर कर दिया. अब टीम इंडिया का 20 जुलाई को सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया से सामना होगा.

COMMENT