दिल्ली डेयरडेविल्स और गुजरात लॉयन्स के बीच खेले गये आईपीएल के 42वें मुकाबले में कुछ ऐतिहासिक देखने को मिला. कुछ ऐसा जिसकी तारीफ करने से 'क्रिकेट के भगवान' भी खुद को नहीं रोक पाये. दिल्ली के ऋषभ पंत ने मात्र 43 गेंदों में ताबड़तोड़ 97 रनों की पारी खेली और सभी का दिल जीत लिया.

फिरोज शाह कोटला मैदान पर खेले गए इस मैच में दिल्ली ने 17.3 ओवरों में तीन विकेट खोकर यह लक्ष्य हासिल कर लिया. इस हार के बाद गुजरात की टीम प्ले ऑफ की दौड़ से बाहर हो गई है. वहीं दिल्ली ने प्ले ऑफ में जाने की अपनी उम्मीदों को जिंदा रखा है.

यह आईपीएल के इतिहास में दूसरी बार है जब 209 रन या उससे ज्यादा का लक्ष्य हासिल किया गया है. घरेलू मैदान पर चार मैचों में दिल्ली की यह तीसरी जीत है.

आईपीएल-10 के 42 मैच में ताबड़तोड़ छक्कों से 7 साल पुराना रिकॉर्ड ध्वस्त हो गया. इस मुकाबले के दौरान 31 छक्के लगे, जो किसी भी आईपीएल मैच में सर्वाधिक छक्कों का रिकॉर्ड है.

दिल्ली की ओर से सर्वाधिक 20 छक्के, जबकि गुजरात की पारी में 11 छक्के लगे. दिल्ली के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने 97 रनों की जोरदार पारी के दौरान सबसे ज्यादा 9 छक्के उड़ाए. संजू सैमसन ने 61 रनों की पारी में 7 छक्के लगाए.

संजू सैमसन ने अपनी अर्धशतकीय पारी में सिर्फ छक्के लगाए. यानी 61 रनों में 7 छक्के, 0 चौके. इस आईपीएल में ऐसा दूसरी बार हुआ है. इससे पहले 22वें मैच में मुंबई इंडियंस के नीतीश राणा ने 62 रनों की नाबाद पारी के दौरान एक भी चौका नहीं लगाया, बल्कि 7 छक्के लगाए थे.

पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर भी ऋषभ पंत की इस पारी की तारीफ करने से नहीं रोक पाये. सचिन ने इस पारी को आईपीएल इतिहास की सबसे बढ़िया पारी बताया.

तो वहीं सहवाग ने भी इस पारी को एक्सट्रा स्पेशल बताया.