अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल संघ फीफा की ताजातरीन रैंकिंग में भारतीय फुटबॉल टीम 21 साल के बाद टॉप 100 देशों में शामिल हो गई है. अप्रैल, 2017 की रैंकिंग में भारत को एक पायदान का फायदा मिला, और वह 101 से 100वें नंबर पर पहुंच गई.

भारतीय फुटबॉल के इतिहास में यह सिर्फ तीसरा मौका है, जब भारतीय टीम की रैंकिंग 100 या 100 के भीतर पहुंची है. इससे पहले अप्रैल, 1996 में भारतीय टीम सौवें नंबर पर पहुंची थी. भारत की सर्वश्रेष्ठ फीफा रैंकिंग 94 है, जो उसने फरवरी, 1996 में हासिल की थी. एएफसी (एशियाई फुटबॉल परिसंघ) रैंकिंग में भारत 11वें नंबर पर कायम है.

केंद्रीय खेलमंत्री विजय गोयल ने यह खबर मिलते ही ट्वीट किया, "भारतीय फुटबॉल 21 साल में पहली बार 100वें पायदान पर पहुंची है…! स्वतंत्र भारत के इतिहास में ऐसा सिर्फ तीसरी बार हुआ है कि भारतीय फुटबॉल टीम वर्ल्ड टॉप 100 में पहुंची…"

टीम के मुख्य कोच स्टीफन कांस्टेंटाइन ने कहा, “जब तक हम आगे बढ़ रहे हैं, मैं खुश हूं. यह दिखाता है कि हम सही दिशा में जा रहे हैं. आगे महत्वपूर्ण मुकाबले होने हैं और हम उन्हें हल्के में नहीं ले सकते.”

इस उपलब्धि पर अखिल भारतीय फुटबॉल संघ के महासचिव कुशल दास ने कहा, “यह खुशी की बात है कि हम सौवें नंबर पर पहुंचे. इसके साथ ही हमें आने वाली चुनौतियों को भी दिमाग में रखना है. एएफसी एशियाई कप क्वालीफायर 2019 हमारे लिए बड़ी चुनौती है. संघ, राष्ट्रीय टीम को हरसंभव सुविधाएं उपलब्ध करा रहा है. हम अपेक्षा करते हैं कि टीम बेहतर प्रदर्शन करेगी.”

एएफसी एशियाई कप क्वालीफायर में म्यांमार के खिलाफ 1-0 से ऐतिहासिक और अंतरराष्ट्रीय मैत्री मैच में कंबोडिया के खिलाफ 3-2 से मिली जीत के चलते भारत रैंकिंग में ऊपर चढ़ा. प्यूर्टो रिको के खिलाफ 4-1 से मिली जीत ने भी इसमें टीम की मदद की. भारतीय टीम ने पिछले 13 में से 11 मैच जीते हैं, जिनमें टीम ने कुल 31 गोल किए.

पिछले ही महीने भारतीय टीम ने 30 से ज्यादा पायदान की छलांग लगाते हुए 101वां स्थान हासिल किया था. दरअसल, पिछले महीने तक मलावी की टीम 100वें पायदान पर थी, लेकिन मैडागास्कर के हाथों 0-1 से हार के बाद मलावी को 13 पायदान नीचे खिसकना पड़ा और इसका फायदा भारत को भी हो गया. मलावी की हार से 101 से 113 तक रैंकिंग वाली सभी टीमों को एक-एक पायदान ऊपर चढ़ने का मौका मिल गया.

मौजूदा फीफा रैंकिंग

1. ब्राजील

2. अर्जेन्टीना

3. जर्मनी

4. चिली

5. कोलम्बिया

28. ईरान (एशिया में सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग)

100. निकारागुआ

100. लिथुआनिया

100. भारत

100. इस्टोनिया